पोषण आहार कार्यक्रम में घोटाले के आरोप

अंबिकापुर | संवाददाता: आंगनबाड़ी केंद्रों में गरीब बच्चों व गर्भवती महिलाओं के लिये संचालित पोषण आहार कार्यक्रम में पचास लाख रूपये के घोटाले का आरोप लगाते हुये स्व सहायता समूह की महिलाओं ने कमिश्रर सरगुजा सहित जिला पंचायत सीईओ व कलेक्टर सरगुजा से मामले में जांच की मांग की है.

शुक्रवार को विकासखंड मैनपाट अंतर्गत ग्राम खालपारा के सरस्वती महिला स्वयं सहायता समूह की महिलाओं ने रेडी टू इट फुड पोषण का संचालन निरस्त करने कमिश्रर सरगुजा बीएस अनंत के नाम ज्ञापन सौंपा.

समूह की महिलाओं ने बताया कि गांव में महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा रेडी टू इट फूड का संचालन एवं आंगनबाड़ी केंद्रो में विगत तीन-चार वर्षो से किया जा रहा है. वहीं गांव में चलाये जा रहे इस कार्यक्रम की जानकारी समूह की महिलाओं को नहीं है.

उन्होंने बताया कि स्वयं सहायता समूह की सचिव खालपारा सचिव नैला नामदेव के द्वारा संचालन कर सचिव के पति मोहित नामदेव के द्वारा स्वयं सहायता समूह के खाते से फर्जी हस्ताक्षर कर आज तक पचास लाख रूपये का आहरण किया गया है.

इसके अलावा समूह को प्रतिमाह दिये जाने चालीस क्विंटल गेंहू को भी राशन दुकानों में बेचा जा रहा है. उन्होंने बताया कि समूह जानकारी के बिना उनके नाम पर रेडी टू इट फूड का संचालन किया जा रहा है. उन्होंने समूह को तत्काल निरस्त करने की कार्रवाई की मांग की.

ज्ञापन सौंपने वालों में समूह की सदस्य तीजो बाई, शनियारों बाई, शांति बाई, रूमंती बाई, देवंती बाई, सविता बाई आदि शामिल थे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *