स्वाइन फ्लू आपको तो नहीं है न !

रायपुर | संवाददाता: स्वाइन फ्लू रायपुर में तेज़ी से पैर फैला रहा है.

सोमवार को एक संदिग्ध महिला मरीज की मौत के साथ ही रायपुर में मृतकों का आंकड़ा तीन तक जा पहुंचा है. 29 अप्रैल को अभनपुर से 65 साल की एक वृद्धा को अंबेडकर अस्पताल, रायपुर में भर्ती कराया गया था. चिकित्सकों ने उसे स्वाइन फ्लू होने की आशंका जताई थी. इलाज के दौरान ही वृद्धा की मौत हो गई. हालांकि अभी तक महिला की रिपोर्ट नहीं मिल पाई है. लेकिन चिकित्सकों का कहना है कि महिला की मौत स्वाइन फ्लू से होने की आशंका है.


इससे पहले निजी अस्पताल में इलाज करवा रही दो महिलाओं की पहले ही स्वाइन फ्लू से मौत होने की आशंका जताई जा चुकी है. इसके अलावा कुछ अस्पतालों में स्वाइन फ्लू के संदिग्ध मरीजों का इलाज भी चल रहा है. इनमें से एक महिला मरीज़ की स्थिति गंभीर बताी जा रही है.

43 डिग्री सेल्सियस के तापमान में स्वाइन फ्लू के फैलने से चिकित्सक भी हैरान हैं. हालांकि चिकित्सकों का कहना है कि जिन लोगों को स्वाइन फ्लू होने की आशंका है, उनमें से अधिकांश बाहर से घूम कर आये हैं.

स्वाइन फ्लू स्ट्रेन इनफ्लुएंजा वायरस A से होने वाला इनफेक्शन है. H1N1 के नाम से चर्चित इस वायरस के गुणधर्म सूअरों के इनफ्लुएंजा से मिलते जुलते हैं, इसलिये इसे स्वाइन फ्लू का नाम दिया गया है. मौसम में नमी के कारण फैलने वाला स्वाइन फ्लू किसी समय महामारी की तरह फैला था लेकिन 10 अगस्त 2010 को वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन ने इस महामारी के खत्म होने की घोषणा कर दी थी. लेकिन इस साल पूरे भारत में इसके मामले सामने आ रहे हैं. केरल से लेकर राजस्थान तक अब तक दो दर्जन से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है.

अगर आपको भी सर्दी-खांसी, लगातार नाक बहना, मांसपेशियों में दर्द, सीर में दर्द, दवा खाने पर भी बुखार का लगातार बढ़ते जाने की शिकायत हो तो जल्दी से चिकित्सक की सलाह लें. स्वाइन फ्लू का इलाज बेहद सस्ता और कारगर है और इससे घबराने की भी ज़रुरत नहीं है लेकिन इलाज ज़रुरी है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!