ताइवान विमान दुर्घटना: मृतकों की संख्या 31 हुई

ताइपे | एजेंसी: ताइवान में पुल से टकराकर विमान दुर्घटना में मरने वालों की संख्या 31 हो गई है. समाचार एजेंसी सिन्हुआ की गुरुवार की रिपोर्ट के अनुसार, विमान संख्या जीई235 ताइपे से चीनी शहर किनमेन की उड़ान पर था, जिसमें चालक दल के पांच सदस्यों सहित 53 यात्री सवार थे. विमान उड़ान के 10 मिनट बाद ही दुर्घटनाग्रस्त होकर ताइपे में कीलुंग नदी में गिर गया.

स्थानीय नागरिक उड्डयन प्राधिकरण की ओर से मिली जानकारी के अनुसार, गुरुवार को सुबह छह बजे तक दुर्घटना में घायलों की संख्या 15 और लापता लोगों की संख्या 12 बताई गई है.


विमान के कैप्टन और दो सह चालकों के शव बरामद कर लिए गए हैं. इसके दो ब्लैक बॉक्स भी बरामद कर लिए गए हैं.

ताइवान प्रशासन से मिली जानकारी के अनुसार, यात्रियों में से 31 चीनी नागरिक थे, जिनकी मौत की पुष्टि की गई है. साथ ही तीन चीनी यात्री घायल हुए हैं.

राहत एवं बचाव कार्य बुधवार रात दो बजे रोक दिए गए थे, जो सुबह 6.30 बजे तक शुरू नहीं हो सके थे. विमान के आगे का हिस्सा और कई अन्य हिस्से पानी की सतह पर आ गए हैं.

ताइपे प्रशासन के अनुसार, विमान अप्रैल 2014 से ही सेवा में था और जनवरी में इसकी जांच होनी थी.

विमान का एक विंग बुधवार को उड़ान के 10 मिनट बाद ही 10.55 पर एक ऊपरगामी पुल से गुजर रहे टैक्सी से टकरा गया था, जिसके बाद विमान नदी में गिर गया था.

ताइवान प्रशासन ने उड़ान से पहले एटीआर-72 के 22 विमानों की सुरक्षा जांच करने का निर्णय लिया है. यह पहली बार नहीं है जब एटीआर-72 विमान ताइवान में दुर्घटनाग्रस्त हुआ है. 23 जुलाई, 2014 को भी ट्रांसएशिया एयरवेज की विमान संख्या जीई222 ताइवान के पेंघु द्वीप में दुर्घटनाग्रस्त हो गई थी, जिसमें 48 लोग मारे गए थे. यह भी एटीआर-72 विमान ही था.

ट्रांसएशिया एयरवेज की स्थापना 1951 में हुई थी. ताइवान की यह पहली निजी विमान सेवा कम दूरी की उड़ानों का संचालन करती है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!