अधिक जीने के लिये कम नमक खायें

वाशिंगटन | एजेंसी: लगभग 187 देशों पर किए गए शोध में पाया कि प्रतिवर्ष हृदयरोगों से संबंधित 16 लाख लोगों की मौत अधिक मात्रा में सोडियम का सेवन करने से होती है. डब्ल्यूएचओ ने प्रतिदिन दो ग्राम सोडियम सेवन की मात्रा निर्धारित की है. टुफ्ट्स यूनिवर्सिटी में फ्राइडमैन स्कूल ऑफ न्यूट्रीशन साइंस एंड पॉलिसी के संकायाध्यक्ष डेरियुश मोजफ्फेरियन ने बताया, “वैश्विक स्तर पर हुईं इन 16.5 लाख मौतों में हर 10 में लगभग एक मौत हृदय संबंधी बीमारी से हुई.”

शोधकर्ताओं ने पाया कि साल 2010 में सोडियम के सेवन का औसत स्तर 3.95 ग्राम प्रतिदिन था, जो कि डब्ल्यूएचओ द्वारा निर्धारित 2.0 ग्राम से लगभग दोगुना है.

उप-सहारा अफ्रीका में 2.18 ग्राम प्रतिदिन से लेकर मध्य एशिया में 5.51 ग्राम प्रतिदिन तक, दुनिया के साभी क्षेत्रों में निर्धारित स्तर से ज्यादा मात्रा में सोडियम का सेवन हो रहा है.

शोधकर्ताओं ने विश्व की तीन चौथाई वयस्क जनसंख्या का प्रतिनिधित्व करने वाले देशों में सोडियम सेवन संबंधी 205 सर्वेक्षणों के मौजूदा आंकड़ों का विश्लेषण किया.

कैंब्रिज विश्वविद्यालय के जॉन पावेल्स ने बताया, “हमने पाया कि पांच वैश्विक मौतों में से चार मौतों का संबंध सोडियम के अधिक मात्रा में सेवन करने से था और ये मौतें मध्यम एवं कम आय वाले देशों में हुईं.”

शोधकर्ताओं ने यह भी पाया कि सोडियम के सेवन से सभी वयस्कों का रक्तचाप कम हुआ. इसने बुजुर्ग व्यक्तियों, अश्वेतों और पहले से उच्च रक्तचाप के मरीजों को बड़े स्तर पर प्रभावित किया.

मोजफ्फरियन ने बाताया, “ये नए परिणाम दुनियाभर में सोडियम का सेवन कम करने के लिए मजबूत नीतियों की जरूरत दर्शाते हैं.”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *