शिक्षक पीढ़ियों के रचनाकार: मोदी

नई दिल्ली | समाचार डेस्क: प्रधानमंत्री मोदी ने कहा शिक्षक पीढ़ियों की रचना करते हैं. नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को शिक्षक दिवस से एक दिन पहले इस उपलक्ष्य में आयोजित कार्यक्रम में कहा कि विद्यार्थियों के जीवन में शिक्षकों की अहम भूमिका होती है. उन्होंने कहा कि शिक्षक होना बाकी करियर जैसा नहीं है. मोदी ने दिल्ली के मानेकशॉ ऑडिटोरियम में आयोजित कार्यक्रम में कहा, “एक शिक्षक होना बाकी करियर की तरह नहीं है. यह एक अलग तरह का करियर होता है. मैं सभी शिक्षकों को सलाम करता हूं. शिक्षक ही पीढ़ियों की रचना करते हैं.”

उन्होंने कहा कि शिक्षकों के कंधों पर बच्चों के भविष्य को संवारने की एक बहुत बड़ी जिम्मेदारी होती है. उन्होंने कहा, “एक शिक्षक कभी सेवानिवृत्त नहीं हो सकता.”

मोदी ने दिवंगत पूर्व राष्ट्रपति ए.पी.जे. अब्दुल कलाम के बारे में कहा, “आपने कलाम को देखा है. वह हमेशा चाहते थे कि उन्हें एक शिक्षक के रूप में याद किया जाए.”

उन्होंने कहा, “हम सर्वपल्ली राधाकृष्णन के जन्मदिवस को शिक्षक दिवस के रूप में मनाते हैं और उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित करते हैं.”

प्रधानमंत्री ने कहा, “नेतृत्व का गुण जरूरी है. आपको यह भी मालूम होना चाहिए कि आप नेता क्यों बनना चाहते हैं, मसलन सिर्फ चुनाव लड़ने के लिए या फिर बदलाव लाने के लिए.”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *