‘किरदार के लिए शराब पी’: तेजस्विनी

मुंबई | मनोरंजन डेस्क: तेजस्विनी कोल्हापुरे ने फिल्म ‘अग्ली’ में अपने किरदार को निभाने के लिये, उसमें जान डालने के लिये थोड़ी सी शराब क्या पी, बालीवुड में हंगामा हो गया. इससे पहले भी तो पुराने जमाने की नायिका मीना कुमारी फिल्म के सेट पर शराब पिया करती थी. अभिनेत्री परवीन बॉबी के बारे में भी कहा जाता था कि उनके घऱ में कई तरह की शराब रहा करती थी. यह जुदा बात है फिल्म में शराबी की भूमिका करते-करते अभिनेता केस्टो मुखर्जी अपनी वास्तविक जिंदगी में शराबी बन गये थे. फिल्म ‘अग्ली’ तेजस्विनी कोल्हापुरे के लिये एक महत्वपूर्ण फिल्म है क्योंकि इससे पहले की उनकी फिल्म ‘पांच’ कभी रिलीज ही नहीं हुई. इसलिये तेजस्विनी कोल्हापुरे को अनुराग कश्यप की फिल्म ‘अग्ली’ के लिये शराब पीनी पड़ी. हमारे देश में कहा जाता है कि ऐसा झूठ बोलने में कोई हर्ज नहीं है जिससे लोगों की भलाई होती है. ठीक, उसी तर्ज पर फिल्म ‘अग्ली’ के किरदार में जान डालने के लिये तेजस्विनी कोल्हापुरे ने थोड़ी सी शराब पी ली थी. इसमें सबसे अच्छी बात यह है कि तेजस्विनी कोल्हापुरे ने छिपाया नहीं है. जाहिर है कि अभिनेत्री तेजस्विनी कोल्हापुरे को अनुराग कश्यप निर्देशित ‘अग्ली’ फिल्म में शराबी पत्नी-मां की भूमिका निभाने में काफी मशक्कत करनी पड़ी थी.

एक शराबी की तरह महसूस करने के लिए तेजस्विनी ने सेट पर सचमुच शराब पी. शराबी की भूमिका निभाने के लिए अभिनेताओं के लिए शराब पीना कोई नई बात नहीं है, लेकिन अभिनेत्रियों के लिए ऐसा करना अब भी काफी मुश्किल भरा है.


तेजस्विनी ने फिल्म में अपने किरदार के लिए शराब पीने की बात स्वीकारी और कहा, “हां, मैंने किरदार के लिए शराब पी थी, लेकिन इतनी भी नहीं कि मैं आपा खो बैठूं. मुझे जिम्मेदारी निभानी थी, इससे फर्क नहीं पड़ता कि किरदार को नशा कैसे हुआ.”

तेजस्विनी 26 दिसंबर को रिलीज हो रही ‘अग्ली’ को लेकर बहुत उत्साहित हैं.

उन्होंने कहा, “दर्शक और समीक्षक आखिरकार ‘अग्ली’ में मेरा काम देखेंगे. मैं बहुत उत्साहित हूं, क्योंकि अनुराग कश्यप के साथ यह मेरी दूसरी फिल्म है. मैंने अपने अभिनय करियर की शुरुआत ‘पांच’ से की थी, जो कभी रिलीज ही नहीं हुई.”

इस फिल्म और इसमें तेजस्विनी के अभिनय को अब तक अच्छी प्रतिक्रिया मिली है.

तेजस्विनी ने कहा, “मेरे परिवार और दोस्तों ने ‘अग्ली’ देखी है. उनकी प्रतिक्रिया बहुत सुकून देने वाली है. मैं भारतीय दर्शकों द्वारा फिल्म को पसंद करने की उम्मीद करती हूं.”

तेजस्विनी को लगता है कि यह अनुराग की सर्वश्रेष्ठ फिल्मों में से एक है.

उन्होंने कहा, “दर्शक अपनी सीट से नहीं हिल पाएंगे. मैं एक अभिनेत्री होने के नाते अनुराग की एहसानमंद हूं.” जाहिर है कि शराबी तेजस्विनी में दर्शकों को बांधे रखने की क्षमता है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!