यूपी के चीरहरण पर मचा बवाल

वाराणसी | समाचार डेस्क: सोशल मीडिया में विपक्षी दलों द्वारा यूपी का चीरहरण करने वाले पोस्टर से बवाल मच गया है. इस पोस्टर में यूपी भाजपा के नवनियुक्त अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्य को कृष्ण के रूप में दिखाया गया है जो द्रौपदी रूपी यूपी के चीर की रक्षा करते हुये दिखाया गया है. इस पोस्टर के बाद सोशल मीडिया के अलावा यूपी की राजनीति में घमासान मचा हुआ है. वहीं इसे जारी करने वाले का कहना है कि इन लोगों ने यूपी का चीरहरण किया है.

उल्लेखनीय है कि महाभारत की कथा के अनुसार जब पांडव जुये में द्रौपदी को हार गये थे तो कौरवों ने धृतराष्ट्र की सभा में द्रौपदी का चीरहरण किया था. उस समय कृष्ण ने द्रौपदी की लाज बचाई थी.


उत्तर प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी के नए प्रदेश अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्य शुक्रवार को पहली बार वाराणसी पहुंचे. भाजपा के एक उत्साही कार्यकर्ता ने सोशल मीडिया पर एक विवादित पोस्टर शेयर किया है. इसमें केशव को भगवान कृष्ण के रूप में दिखाया गया है, जबकि विरोधी नेता यूपी का चीरहरण करते दिख रहे हैं. बनारस में रूपेश पांडेय नाम के कार्यकर्ता ने यह पोस्टर फेसबुक पर भी शेयर किया किया है. पोस्टर में ऊपर नरेंद्र मोदी और अमित शाह दिखाई दे रहे हैं. नीचे उत्तर प्रदेश को द्रौपदी के रूप में दिखाया गया है.

बहुजन समाज पार्टी प्रमुख मायावती, समाजवादी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव, सपा के आजम खां, मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी और कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी पोस्टर में यूपी का चीरहरण करते दिखाए गए हैं.

पोस्टर पर लिखा है, “कलयुग में केशव केवल उपदेश नहीं देते, रणभूमि में युद्ध करते हैं.”

सपा की पूर्व मंत्री रीबू श्रीवास्तव ने इस पर कड़ा ऐतराज जताया है. उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री को लेकर विवादित पोस्टर जारी करना उचित नहीं है. कार्यकर्ताओं से बात करके इसका विरोध किया जाएगा.

इस मामले में केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि उनका इस पोस्टर से कोई लेना-देना नहीं है.

वहीं, रूपेश पांडेय ने कहा कि उन्होंने अपनी मर्जी से पोस्टर जारी किया है. पार्टी का इससे कोई लेना-देना नहीं है. उन्होंने कहा, “यूपी की हालत बहुत खराब है. इन लोगों ने प्रदेश का चीरहरण कर दिया है. कृष्णावतार केशव ही इस प्रदेश को बचाएंगे.”

अगले साल 2017 में उत्तरप्रदेश विधानसभा का चुनाव है. कहा जा रहा है कि यदि भाजपा यूपी का विधानसभा चुनाव नहीं जीत पाई तो अगला लोकसभा चुनाव जीतना उसके लिये मुश्किल होगा. बसपा, सपा, कांग्रेस तथा भाजपा ने अभी से यूपी पर ध्यान देना शुरु कर दिया है. भाजपा ने यूपी विधानसभा चुनाव के मद्देनज़र केशव प्रसाद मौर्य को प्रदेश अध्यक्ष नियुक्त किया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!