यूपीए सरकार का अंतरिम बजट पेश

नई दिल्ली | एजेंसी: वित्त मंत्री पी. चिदंबरम द्वारा सोमवार को यूपीए-2 सरकार का अंतरिम बजट पेश किया गया. इस बजट के मुख्य बिंदु इस प्रकार हैं –

– ईंधन सब्सिडी 65 हजार करोड़ रुपये


– भारतीय अर्थव्यवस्था का विश्व में 11वां स्थान, तीसरे पर पहुंचने का लक्ष्य

– वित्तीय घाटा तीन फीसदी

– (सार्वजनिक-निजी भागीदारी) पीपीपी मॉडल को और बढ़ावा

– विनिर्माण क्षेत्र को निर्यात में सभी करों से छूट

– 2014-15 के लिए योजनागत व्यय 5 लाख, 55 हजार 322 करोड़ रुपये

– रक्षा खर्च 10 फीसदी वृद्धि के साथ 2 लाख 24 हजार करोड़ रुपये

– 2014-15 में रेलवे को 29 हजार करोड़ रुपये की बजटीय सहायता

– एक पद एक पेंशन की मांग स्वीकृत, 2014-15 में 500 करोड़ रुपये के साथ कार्यान्वयन

– वित्त वर्ष 2014-15 में 3,38,562 लाख करोड़ रुपये की केंद्रीय सहायता

– 50,000 मेगावाट क्षमता के पारंपरिक बिजली उत्पादन संयंत्र निर्माणाधीन

– वित्त वर्ष 2014-15 में 500 मेगावाट क्षमता प्रत्येक वाले चार सौर बिजली उत्पादन संयंत्रों का होगा निर्माण

– 100 करोड़ रुपये के साथ सामुदायिक रेडियो को मिलेगा बढ़ावा

– वित्त वर्ष 2013-14 में अनुमानित विकास दर 4.9 फीसदी

– नीतिगत अवरोध नहीं

– एक दशक में 10 करोड़ नौकरियों का सृजन होगा

– 19 तेल ब्लॉक आवंटित

– सात नए हवाईअड्डे निर्माणाधीन

– थोक महंगाई दर 5.05 फीसदी

– प्रमुख क्षेत्रों की महंगाई दर तीन फीसदी

– 2013-14 में खाद्यान्न उत्पादन अनुमानित 26.3 करोड़ टन

– मौजूदा कारोबारी साल में निर्यात अनुमानित 326 अरब डॉलर

– मौजूदा कारोबारी साल में 29,000 मेगावाट से अधिक बिजली उत्पादन बढ़ा

– हमारे सामने मौजूद समस्या आज उभरती अर्थव्यवस्थाओं की आम समस्या है

– वैश्विक अर्थव्यवस्था से भारत अप्रभावित नहीं रह सकता

– वित्तीय घाटा 4.6 फीसदी

– चालू खाता घाटा 45 अरब डॉलर

– विदेशी पूंजी भंडार में 15 अरब डॉलर वृद्धि की उम्मीद.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!