अमरीका: गर्भ के हत्यारिन को 120 साल सजा

बोल्डर | समाचार डेस्क: एक अमरीकी अदालत ने पेट चीरकर गर्भस्थ कन्या की हत्या करने वाली महिला को 120 साल की सजा सुनाई है. दोषी महिला ने मां की हत्या करने की कोशिश की थी तथा उसके गर्भस्थ बच्ची को मार डाला था. अमरीका के कॉलोराडो राज्य की एक न्यायपीठ ने मंगलवार को एक महिला को गर्भवती की हत्या की कोशिश करने और चाकू से उसका पेट काट गर्भस्थ शिशु को बाहर निकालने का दोषी पाया. अभियोजन पक्ष के अनुसार, सात महिलाओं और पांच पुरुषों वाली न्यायपीठ ने 35 वर्षीय डेनेल लेन को गर्भवती मिशेल विल्किंस पर जानलेवा हमला करने और अवैध तरीके से उसकी गर्भावस्था खत्म करने के मामले में भी दोषी पाया. वाकया मार्च 2015 का है. डेनेल को 120 साल के कारावास की सजा सुनाई गई है.

27 वर्षीय मिशेल घटना के वक्त सात माह की गर्भवती थी. वह क्रेगलिस्ट कंपनी की ओर से लाए गए बच्चों के नि:शुल्क कपड़ों के एक विज्ञापन के बारे में डेनेल को लोंगमोंट स्थित उनके घर पर जानकारी दे रही थी. उसी दौरान डेनेल ने उन पर हमला किया और उन्हें अपने घर के बेसमेंट में मरने के लिए छोड़ दिया.


डेनेल ने अमानवीयता की सारी हदें पार कर दी थीं. उसने गर्भवती मिशेल पर हमला करने के बाद चाकू से उसका पेट काटा और उसके गर्भस्थ शिशु को एक नजदीकी अस्पताल ले गई. उसका दावा था कि महिला का गर्भपात हो गया है. गर्भस्थ शिशु एक कन्या थी, जिसकी मौत हो चुकी थी. पुलिस ने उसी दिन डेनेल को गिरफ्तार कर लिया था.

वहीं, इस जानलेवा हमले के बावजूद जिंदा बची मिशेल ने उसे बचाने के लिए तुरंत आपातकालीन सेवा पहुंचाने वालों का आभार जताया. उन्होंने कहा कि जब दोषी को सजा सुनाई गई तो वह ‘बहुत भावुक’ हो गईं और उनका दिल बहुत हल्का हो गया. वह अब अपनी जिंदगी में आगे बढ़ना चाहती हैं.

उन्होंने कहा, “मुझे डेनेल से नफरत नहीं है. मैंने उसे माफ कर दिया है.” अब डेनेल को जीवनपर्यंत जेल में रहना पड़ेगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!