यूपी सपा के हवाले

लखनऊ | समाचार डेस्क: रुझानों के मुताबिक मुलायम सिंह की छोड़ी मैनपुरी सीट सपा के पाले में ही रहने जा रही है. इससे इस बात के संकेत मिल रहें हैं कि मोदी सरकार के 100 दिनों के शासन ने कम से कम मैनपुरी के मतदाताओं को अपनी ओर खीचने में सफलता हासिल नहीं की है. इसी तरह से यूपी के विधानसभा की 11 सीटों पर मतगणना के रुझानों के मुताबिक भाजपा के उम्मीदवार केवल लखनऊ पूर्व और नोएडा विधानसभा सीट पर आगे चल रहे हैं. इससे फौरी तौर पर निष्कर्ष निकाला जा सकता है कि यूपी में भाजपा ने सपा को मात देने में नाकामी ही मिली है.

मैनपुरी संसदीय सीट पर सपा के उम्मीदवार तेज प्रताप यादव ने अपने निकटतम प्रतिद्वंदी भाजपा उम्मीदवार प्रेम सिंह शाक्य से निर्णायक बढ़त बना ली है. वह लगभग एक लाख से अधिक मतों से आगे चल रहे हैं.

उत्तर प्रदेश में 11 विधानसभा सीटों व मैनपुरी संसदीय सीट पर मंगलवार को कड़ी सुरक्षा के बीच मतगणना जारी है. शुरुआती रुझानों के मुताबिक सत्तारूढ़ समाजवादी पार्टी के उम्मीदवार 9 विधानसभा सीटों पर आगे चल रहे हैं, जबकि भारतीय जनता पार्टी के प्रत्याशी केवल दो सीटों पर बढ़त बनाए हुए हैं.

इस बीच, मैनपुरी से सपा उम्मीदवार तेज प्रताप यादव ने कहा कि मैनपुरी की जनता ने सपा के प्रति जो विश्वास जताया है, उस पर वह खरा उतरने की कोशिश करेंगे. उन्होंने कहा कि मैनपुरी के विकास के लिए जो कुछ भी करना पड़े वह करेंगे.

लखनऊ पूर्व सीट पर लालजी टंडन के पुत्र आशुतोष टंडन सपा उम्मीदवार जूही सिंह से आगे चल रहे हैं, जबकि नोएडा विधानसभा सीट पर भाजपा उम्मीदवार बिमला बाथम को बढ़त हासिल है.

सपा के उम्मीदवार नौ विधानसभा सीटों पर आगे चल रहे हैं. नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में रोहनिया विधानसभा सीट पर भी भाजपा समर्थित अपना दल की उम्मीदवार कृष्णा पटेल सपा उम्मीदवार महेंद्र पटेल से पीछे चल रही हैं.

इस बीच रुझानों को लेकर भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष लक्ष्मीकांत वाजपेयी ने कहा कि उपचुनाव को केंद्र सरकार से जोड़कर नहीं देखा जाना चाहिए. उपचुनाव हमेशा ही सत्ताधारी पार्टी के पक्ष में जाता है, इसलिए इसे केंद्र सरकार की नाकामी के तौर पर नहीं देखा जाना चाहिए.

उल्लेखनीय है कि उप्र में सहारनपुर नगर, बिजनौर, ठाकुरद्वारा, नोएडा, निघासन, लखनऊ पूर्वी, हमीरपुर, चरखारी, सिराथू, बलहा और रोहनिया विधानसभा सीटें लोकसभा चुनाव के बाद खाली हो गई थीं. इन सीटों पर उप चुनाव के तहत 13 सितंबर को मतदान कराए गए थे.

इन सभी सीटों से चुने गए विधायक डॉ. महेश शर्मा, कलराज मिश्र, अजय मिश्र, सावित्री बाई फूले, साध्वी निरंजन ज्योति, उमा भारती, कुंवर भारतेंदु, कुंवर सर्वेश कुमार सिंह, राघव लखनपाल, केशव प्रसाद तथा अनुप्रिया पटेल चुनाव जीतकर संसद पहुंच गए थे.

इसके साथ ही आजमगढ़ और मैनपुरी लोकसभा सीट से चुनाव जीतने के बाद सपा मुखिया मुलायम सिंह यादव ने आजमगढ़ से प्रतिनिधित्व को बरकरार रखते हुए मैनपुरी से इस्तीफा दे दिया था, जिसके बाद इस सीट पर भी 13 सितंबर को ही मतदान कराया गया था.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *