उप्र उपचुनाव: सपा को झटका

लखनऊ | समाचार डेस्क: उत्तर प्रदेश विधानसभा के लिये हुये उपचुनाव को सत्तारूढ़ समाजावदी पार्टी को झटका लगा है. उसने अपने पास की तीन में से दो सीट गंवा दी है. उत्तर प्रदेश में तीन सीटों पर हुए उपचुनाव में सत्तारूढ़ समाजवादी पार्टी को बड़ा झटका लगा है, जबकि कांग्रेस और भाजपा एक-एक सीट पर जीत हासिल करने में सफल रही हैं. तीनों सीटों पर पिछले सप्ताह हुए मतदान के लिए मतगणना मंगलवार को हुई. सपा इससे पहले तीनों ही सीटों पर काबिज थी, लेकिन उपचुनाव में उसे दो सीटें गंवानी पड़ी हैं.

मुजफ्फरनगर विधानसभा क्षेत्र से भाजपा प्रत्याशी कपिल देव अगरवाल ने 6,000 मतों के अंतर से जीत हासिल की.


इस सीट पर सत्तारूढ़ सपा के विधायक चितरंजन स्वरूप की पिछले वर्ष निधन हो जाने के बाद उपचुनाव कराना पड़ा.

सहारनपुर के देवबंद सीट से कांग्रेस नेता माविया अली ने सपा प्रत्याशी मीना रॉणा को 3,424 मतों से हराया. पूर्व विधायक राजेंद्र सिंह राणा के निधन के बाद इस सीट पर उपचुनाव की नौबत आई.

इस सीट से भाजपा ने राष्ट्रीय स्वंयसेवक संघ के पूर्व प्रचारक रामपाल सिंह पुंढीर को उतारा था.

सपा हालांकि फैजाबाद का बीकापुर सीट बचाने में सफल रही. इससे पहले भी इस सीट पर सपा का ही कब्जा था, लेकिन पूर्व विधायक मित्रसेन यादव के निधन के बाद उपचुनाव कराना पड़ा.

बीकापुर से सपा के आनंद सेन यादव ने जीत हासिल की. हालांकि राज्य उपचुनाव के परिणाम निश्चित तौर पर मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के लिए शुभ संकेत नहीं है.

अखिलेश ने पिछले सप्ताह ही कहा था कि वह राज्य की सत्ता में अपनी सरकार की ‘लोकप्रियता’ के कारण दोबारा आएंगे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!