वीना मलिक मजहबी आतंकवाद की शिकार

नई दिल्ली | विशेष संवाददाता: पाकिस्तान की अदाकारा वीना मलिक मज़हबी आतंकवाद के शिकार बन गई है. वीना ने पाकिस्तान के जियो टीवी के एक शो में मई माह में कथित तौर पर एक धार्मिक गाने पर डांस किया था. इससे कुपित होकर पाकिस्तान प्रशासित कश्मीर के गिलगित-बल्तिस्तान के आतंकवाद रोधी अदालत ने वीना मलिक उनके पति, जियो टीवी के मालिक शकील उर रहमान तथा उसके एंकर शाइस्ता वाहिदी को 26 साल की सजा सुनाई है. अदालत ने अपने आदेश में कहा, “आरोपियों की हरकत से मुसलमानों की धार्मिक भावनाएं आहत हुई हैं. ऐसी हरकतों को गंभीरता से लिए जाने की ज़रूरत है. उन्हें रोकने के लिए कड़ी सज़ा देनी ज़रूरी है.” उल्लेखनीय है कि गिलगित-बल्तिस्तान को पाकिस्तान में पूर्ण राज्य का दर्जा प्राप्त नहीं है इस कारण से वीना मलिक को जेल नहीं जाना पड़ेगा. इसके बावजूद सवाल किया जा सकता है कि टीवी शो में नाचने पर किसी को ईंशनिंदा का गुनाहगार कैसे माना जा सकता है.

मामला पाकिस्तान के गिलगित-बल्तिस्तान प्रांत का है इसलिये कहा जा सकता है कि अंधेर नगरी चौपट राजा…वाला मामला है.


पाकिस्तानी अदाकारा वीना मलिक अपने स्वभाव से ही काफी बोल्ड है तथा उसने भारत के टीवी रिएलिटी शो ‘बिग बॉस’ में जो कारनामे किये थे उसे परिवार के साथ बैठकर देखना मुश्किल हो गया था. वीना मलिक ने उसके बाद कई ‘बी’ तथा ‘सी’ ग्रेड की फिल्मों में काम किया था पर उन्हे सफलता नहीं मिली.

इसके बाद वीना मलिक ने दुबई में शादी कर ली. उस शादी के बाद वीना ने उसी शादी समारोह को अमरीका में ईसाई धर्म के नियमानुसार फिर से दुहराया. वहां से मई माह में पाकिस्तान आकर वीना ने तीसरे बार अपने खाविंद से फिर से टीवी शो में निकाह किया जिसके बाद से ही वह कट्टरपंथियों के निशाने पर आ गई थी. वीना मलिक पर आरोप है कि उसने टीवी शो में निकाह के समय उस गाने पर डांस किया था जिसे एक धार्मिक गाना माना जाता है.

वीना मलिक फिलहाल, दुबई में अपने बच्चे तथा पति के साथ है. पाकिस्तान के गिलगित-बल्तिस्तान की अदालत द्वारा उन्हें 26 साल की सजा सुनाये जाने से वे सकते में हैं तथा अभी पाकिस्तान नहीं आ रहीं हैं. अदालती फैसले पर वीना ने अपनी प्रतिक्रिया देते हुए कहा, “26 साल..मतलब पूरी जिंदगी? ऐसे कैसे कोई कोर्ट उस औरत को ऐसी सजा सुना सकता है जिसने कुछ दिन पहले ही ऑपरेशन से संतान को जन्म दिया हो. मैं तो पाकिस्तान लौट कर एक अस्पताल खोलने की सोच रही थी. यह सजा तो बहुत हास्यास्पद है. मैं निर्दोष हूं और अब भावनात्मक रूप से टूट रही हूं.”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!