‘vip culture’ में बदलाव लायेंगे

नई दिल्ली | समाचार डेस्क: केजरीवाल ने कहा देश के वीआईपी संस्कृति में बदलाव की जरूरत है. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शनिवार को कहा कि यूरोप में पीएम भी बस स्टाप में खड़े नजर आते हैं जबकि हमारे यहां मंत्रियों के लिये सड़के बंद कर दी जाती है. अरविंद केजरीवाल ने शनिवार को कहा कि उनकी सरकार ‘वीआईपी संस्कृति’ समाप्त करेगी. दिल्ली के रामलीला मैदान में शपथ-ग्रहण के बाद केजरीवाल ने कहा, “हम वीआईपी संस्कृति समाप्त करना चाहते हैं. क्या आपको वह स्थिति पसंद आती है जब कोई मंत्री सड़क से गुजरते हैं तो मार्ग बंद कर दिया जाता है और सड़क पर जाम लग जाता है.”

उन्होंने कहा, “यूरोप के देशों में प्रधानमंत्री बस स्टॉप पर खड़े नजर आ जाते हैं. हमें उसी तरह की संस्कृति की आवश्यकता है. इसमें समय लगेगा. लेकिन हम इसे करेंगे.”

आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल ने शनिवार को राजधानी स्थित रामलीला मैदान में दिल्ली के मुख्यमंत्री पद के रूप में शपथ ली. उप राज्यपाल नजीब जंग ने उन्हें पद व गोपनीयता की शपथ दिलाई. केजरीवाल ने हिन्दी में शपथ ली.

केजरीवाल के अतिरिक्त उनके मंत्रिमंडल के छह सहयोगियों को भी पद व गोपनीयता की शपथ दिलाई गई.

शपथ ग्रहण समारोह देखने के लिए सुबह से ही आप के समर्थक रामलीला मैदान में पहुंचना शुरू हो गए थे. समर्थक आप का झंडा लहराते और उनके समर्थन में नारेबाजी करते हुए दिखे.

केजरीवाल के करीबी सहयोगी मनीष सिसौदिया, सत्येंद्र जैन, गोपाल राय, असिम मोहम्मद खान, संदीप कुमार और जितेंद्र सिंह तोमर ने मंत्रिमंडल सदस्य के रूप में शपथ ग्रहण की.

गौरतलब है कि आप ने करीब एक साल बाद शानदार वापसी करते हुए दिल्ली विधानसभा चुनाव में 70 में से 67 सीटों पर जीत दर्ज की है.

दिसंबर 2013 विधानसभा में पहली बार चुनाव लड़ने वाली आप को 28 सीटों पर जीत मिली थी और इसने कांग्रेस के साथ मिलकर सरकार बनाई थी, लेकिन दिल्ली लोकपाल विधेयक पारित न करा पाने के कारण केजरीवाल ने 49 दिन बाद ही मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया था.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *