‘समूचा विश्व मेरा परिवार’- श्री श्री

नई दिल्ली | समाचार डेस्क: अपने कार्यक्रम में श्री श्री रविशंकर ने खुद पर हमला करने वालों को जवाब दिया. पर्यावरण व सुरक्षा चिंता संबंधी विवादों के बीच आध्यात्मिक गुरु श्री श्री रविशंकर के नेतृत्व वाले ऑर्ट ऑफ लिविंग द्वारा आयोजित तीन दिवसीय विश्व सांस्कृतिक महोत्सव यहां शुक्रवार को शुरू हो गया. इस बीच श्री श्री ने समारोह में लोगों का आह्वान किया कि आइए शांति व सौहार्द कायम करते हैं. समारोह के पहले दिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ-साथ दर्जनों विदेशी गणमान्य व्यक्तियों ने शिरकत की.

समारोह में हजारों प्रतिभागी हिस्सा ले रहे हैं, जो संगीत के विभिन्न कार्यक्रमों से मौजूद लोगों का मनोरंजन कर रहे हैं. पहले दिन भरतनाट्यम के कलाकारों ने समां बांधा.


अपनी तरह का यह अब तक का सबसे बड़ा सांस्कृतिक कार्यक्रम माना जा रहा है, जो यमुना खादर के लगभग एक हजार एकड़ भूमि में आयोजित हो रहा है.

यमुना खादर इलाके में आयोजित हो रहे इस समारोह में पहले से ही लोग हजारों की संख्या में मौजूद हैं. दुनिया के विभिन्न देशों के लोगों के इस समारोह में शिरकत करने की उम्मीद जताई जा रही है.

राष्ट्रीय हरित न्यायाधिकरण ने समारोह आयोजित होने का रास्ता शुक्रवार को साफ कर दिया. न्यायाधिकरण ने श्री श्री रविशंकर के फाउंडेशन के इस आयोजन से पर्यावरण को हो रहे नुकसान की भरपाई के लिए पांच करोड़ रुपये जुर्माना अदा करने के लिए तीन सप्ताह का समय दिया.

आध्यात्मिक गुरु माने जाने वाले श्री श्री रविशंकर ने उन लोगों पर निशाना साधा जिन्होंने इसे प्राइवेट पार्टी करार दिया.

रविशंकर ने वहां मौजूद लोगों की भीड़ से कहा, “आइए, शांति व सौहार्द कायम करते हैं.”

उन्होंने कहा, “हां, समूचा विश्व मेरा परिवार है.” संस्कृत के श्लोक ‘वसुधैव कुटुंबकम’ का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि वेदों में कहा गया है कि पूरा विश्व एक परिवार है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!