रिहा होगें होस्नी मुबारक

काहिरा | एजेंसी: जेल में कैद मिस्र के पूर्व राष्ट्रपति होस्नी मुबारक इस सप्ताह के अंत में रिहा हो सकते हैं. ऐसा मुबारक के वकील फरीद अल-दीब का कहना है. फरीद अल-दीब ने कहा, “हमारे लिए आखिरी काम सिर्फ सामान्य प्रशासनिक प्रक्रिया रह गया है. मुझे मुबारक के इस सप्ताह के आखिर में रिहा होने का भरोसा है.”

ज्ञात्वय रहें कि मुबारक के खिलाफ चल रहे भ्रष्टाचार के आखिरी मामले का निबटारा 48 घंटे के अंदर होने की संभावना है. इससे पहले मिस्र की एक अदालत ने मुबारक पर लगे भ्रष्टाचार के दूसरे और आखिरी मामले में उन्हें रिहा करने का आदेश दिया था जिसमें उन पर राष्ट्रपति भवन के रखरखाव के लिए आवंटित किए गए धन को हड़पने का आरोप लगाया गया था.


होस्नी मुबारक पर राष्ट्रपति रहने के समय सत्ता का दुरपयोग करने का आरोप है. मिस्र के एक कानूनी विशेषज्ञ अली माशाल्ला का कहना है कि मुबारक प्रदर्शनकारियों की हत्या के मामले में भी जमानत पर रिहा हो सकते हैं क्योंकि उनके कानूनी हिरासत की अवधि अब समाप्त हो चुकी है.

गौर तलब है कि होस्नी मुबारक को 1975 में उपराष्ट्रपति नियुक्त किया गया था. मिस्र के तत्कालीन राष्ट्रपति अनवर सादात की 14 अक्टूबर 1981 को हत्या के पश्चात् होस्नी मुबारक को राष्ट्रपति बनाया गया था. उन्होनें लगभग 30 वर्षो तक मिस्र पर राज किया था.

मिस्र के चौथे और सबसे लंबे समय तक राष्ट्रपति रहे होस्नी मुबारक ने 11 फरवरी 2011 को अपने पद से इस्तीफा दिया था. होस्नी मुबारक को मिस्र में 25 जनवरी 2011 से चले 18 दिनों के जन विद्रोह के फल-स्वरूप अपना इस्तीफा देना पड़ा था.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!