मराठी लेखक लक्ष्मण माने पर बलात्कार का आरोप

मशहूर मराठी लेखक लक्ष्मण माने पर तीन महिलाओं का दैहिक शोषण करने का आरोप लगा है. सतारा जिले के जकातवाड़ी में स्थित शारदाबाई पवार आश्रम की तीन महिलाओं ने माने पर यह आरोप लगाते हुए कहा कि उन्होंने नौकरी को पक्का कराने की बात कह कर साल 2003 से 2010 के बीच लगातार उनका दैहिक शोषण किया. लक्ष्मण माने इस आश्रम के अध्यक्ष पद पर आसीन है.

इन तीनों महिलाओं का कहना है कि उनके साथ अच्छा बर्ताव नही किया जाता था और माने उनकी गरीबी और मजबूरी का फायदा उठा कर उनसे अत्याचार और जबरदस्ती भी किया करते थे. इन महिलाओं के अनुसार जब उन्होंने माने से पूछा कि अभी तक नौकरी पक्की क्यों नहीं हुई तो माने ने उन्हें जान से मारने की धमकी भी दी.

इतने सालों से शोषण से आखिरकर तंग आकर इन महिलाओं ने रविवार को पुलिस में इसके बाबत रिपोर्ट लिखाई. पुलिस में मामला दर्ज होने के बाद से ही लक्ष्मण माने फरार हैं और पुलिस उनकी तलाश कर रही है.

उल्लेखनीय है कि मराठी साहित्य जगत में अलग पहचान रखने वाले दलित लेखक लक्ष्मण माने पद्मश्री पद से नवाजे जा चुके हैं. इसके अलावा वे महाराष्ट्र विधान परिषद के सदस्य भी रह चुके हैं साथ ही अभी आदिवासी बच्चों के लिए चलाए जा रहे एक स्कूल के अध्यक्ष भी हैं. माने के खिलाफ ऐसे आरोप लगने के बाद से ही मराठी साहित्य जगत में खलबली मची हुई है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *