आयुर्वेदिक डॉक्टर करेंगे एलोपैथी इलाज

रायपुर | संवाददाता: छत्तीसगढ़ में जल्दी ही आयुर्वेदिक चिकित्सक मरीजों को एलोपैथिक दवायें लिखेंगे. राज्य सरकार ने इसकी तैयारी कर ली है और इस आशय का प्रस्ताव राज्यपाल को भेजा गया है.

पिछले कई सालों से छत्तीसगढ़ में आयुर्वेदिक डाक्टरों द्वारा एलोपैथी दवा लिखने की मांग होती रही है. उत्तरप्रदेश, हरियाणा और महाराष्ट्र समेत कई राज्यों में आयुर्वेदिक डाक्टरों को यह अधिकार है. लेकिन छत्तीसगढ़ में इस पर रोक थी.


फिलहाल राज्य सरकार में 1200 से अधिक सरकारी आयुर्वेदिक चिकित्सक और प्राध्यापक हैं. सरकार इन्हें ही एलोपैथी दवायें लिखने का अधिकार देने वाली है. इसके अलावा लगभग 2100 आयुर्वेद चिकित्सक राज्य में निजी प्रैक्टिस कर रहे हैं. राज्य सरकार ने इस अधिकार से उन्हें वंचित रखा है.

हालांकि सरकार ने सभी रोगों के इलाज और उनके लिये एलोपैथी दवा लिखने का अधिकार आयुर्वेदिक चिकित्सकों को नहीं दिया है. इसके लिये बजाप्ता नीति निर्देश बनाये गये हैं. लेकिन राज्य सरकार के इस फैसले से एमबीबीएस चिकित्सकों से नाराजगी जताई है.

राज्य में हॉस्पिटल बोर्ड के अध्यक्ष डॉ. राकेश गुप्ता ने आरोप लगाया है कि राज्य में चिकित्सा सेवा को बेहतर करने के बजाये इस तरह का निर्णय राज्य की चिकित्सा सेवा के साथ खिलवाड़ और मरीजों की जान को जोखिम में डालने वाला है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!