हमलावर भालू को सीआरपीएफ ने मार डाला

रायपुर | संवाददाताः छत्तीसगढ़ के गरियाबंद में एक हमलावर भालू को सुरक्षाबल के जवानों ने पीट-पीट कर मार डाला. पुलिस का दावा है कि जंगल में सर्चिंग के लिये निकले सीआरपीएफ के जवानों पर भालू ने हमला कर दिया था.

पुलिस का कहना है कि गरियाबंद के पंडरीपानी इलाके में सीआरपीएफ के जवान गश्त के लिये निकले थे, वहीं एक भालू ने उन पर हमला कर दिया. इससे दो जवानों को चोट आई है. हमले से नाराज़ जवानों ने भालू को पीट-पीट कर मार डाला. घायलों को बाद में स्थानीय अस्पताल में भर्ती कर उनका इलाज किया गया.


मारे गये भालू को लेकर वन विभाग ने दावा किया है कि भालू के कई नाखून गायब हैं. हालांकि वन विभाग का अमला पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद ही विस्तृत जानकारी की बात कह रहा है.

छत्तीसगढ़ के जंगलों में हर साल भालूओं का हमला आम बात है. लेकिन पिछले कुछ सालों में भालू और पुलिस के बीच टकराव की कई घटनायें सामने आई हैं.

पिछले साल 11 मार्च को महासमुंद ज़िले के नवागांव में एक भालू ने ग्रामीण पर हमला कर दिया था. हमले के बाद जब वन विभाग की टीम पुलिस के साथ पहुंची तो भालू ने उन पर भी हमला कर दिया. इस हमले में तीन लोग मारे गये थे. इसके बाद पुलिस ने इस भालू को मार दिया था.

1 जनवरी 2014 को इसी तरह बिलासपुर ज़िले के पेंड्रा के सिलपहरी गांव में भालू के हमले में एक व्यक्ति की मौत हो गई थी. राज्य के वन अमले ने उसे बेहोश कर के पकड़ने के लिये टीम भेजी लेकिन इलाके के एसडीएम रणवीर शर्मा के आदेश से पुलिस के जवानों ने भालू को गोली मार दी.

इसके महीने भर बाद फरवरी 2014 में कांकेर में सीमा सुरक्षा बल के जवानों पर एक भालू ने कथित रुप से हमला कर दिया था, जिसके बाद सीमा सुरक्षाबल के जवानों ने उसे मार डाला था.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!