भाजपा बदलेगी दिल्ली की तकदीर-गडकरी

नई दिल्ली | डेस्क : भारतीय जनता पार्टी ने दिल्ली चुनाव के लिये जारी घोषणापत्र में वादों के ढेर लगा दिये हैं. पार्टी का संकल्प पत्र जारी करते हुए केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने कहा कि कुछ चंद चीजें फ्री में बांटकर दिल्ली का भविष्य नहीं बन सकता है.

उन्होंने कहा कि दिल्ली का कंक्रीट भविष्य बनाने के लिए दूरगामी प्लानिंग लगेगी और वो सोच और विजन भाजपा ने बताई है. पार्टी दिल्ली की तकदीर बदल देगी.


गडकरी ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी दिल्ली की तकदीर बदल देगी. उन्होंने आर्थिक पिछड़ा वर्ग आयोग बनाने की भी बात कही.

नितिन गडकरी ने कहा कि हम गांव, गरीब, मजदूर, किसान और देश का भविष्य बदलना चाहते हैं और इसी बात पर भारत सरकार कार्य कर रही है. विश्व के सबसे बड़े दिल्ली- मुंबई हाइवे पर हमने कार्य शुरू कर दिया है, ये गुरुग्राम के नजदीक सोहना से शुरू होकर मुंबई तक जाएगा. इस पर 1 लाख 3 हजार करोड़ रुपये का खर्च आएगा और आज से 3 साल के अंदर मात्र 12 घंटे में दिल्ली की जनता अपनी गाड़ी से मुंबई पहुंच जाएगी. उन्होंने कहा कि दिव्यांग, विधवा, बुजुर्ग और 1984 के दंगा पीड़ितों की पेंशन में वृद्धि की जाएगी.

इस संकल्प पत्र में कहा गया है कि भाजपा सरकार का पहला काम, प्रदूषण पर लगाएंगे लगाम, दिल्ली में प्रदूषण को कम करने के लिए केंद्र सरकार के साथ मिलकर सभी प्रयास प्राथमिकता से किये जाएंगे. दिल्ली के अस्पतालों, सरकारी स्कूलों और अन्य सभी सरकारी निकायों एवं संस्थानों में कार्यरत अनुबंध कर्मचारियों को 58 वर्ष तक कार्य करते रहने की जॉब गारंटी मिलेगी.

पार्टी ने कहा है कि युवाओं को सफल उद्यमी बनाने के लिए 1,000 करोड़ रुपये के विशेष ‘स्टार्टअप एंड इनोवेशन फंड’ सहित एक दूरदर्शी स्टार्टअप नीति बनाएंगे. अनाधिकृत कॉलोनियों में रहने वाले 40 लाख निवासियों को मालिकाना हक़ देने के बाद इन कॉलोनियों के समुचित विकास के लिए ‘कालोनीज डेवलपमेंट बोर्ड’ का गठन किया जाएगा.

शिक्षा को लेकर इस संकल्प पत्र में कहा गया है कि गुणवत्तापूर्ण शिक्षा देने के लिए दिल्ली में 10 नए कॉलेज और 100 नए स्कूल शुरू होंगे. दिल्ली के छात्रों की आधुनिकतम शिक्षा सुनिश्चित करने के लिए शिक्षा बजट में हर वर्ष 10 प्रतिशत की बढ़ोतरी होगी. इसी तरह आयुष्मान भारत योजना को दिल्ली में लागू करने का वादा किया है, जिसमें दिल्लीवासियों को 5 लाख तक का मुफ्त इलाज मिल सकेगा.

इस घोषणापत्र में कहा गया है कि प्रधानमंत्री आवास योजना से दिल्ली में 2022 तक सब के पास अपना पक्का मकान होगा. दिल्ली में 2024 तक हर घर को अपने नल से स्वच्छ पेयजल मिलेगा. पार्टी ने कहा है कि सीलिंग से परेशान कारोबारियों को राहत दिलाने हेतु सभी जरूरी कदम उठाएंगे. 10 लाख व्यापारियों की दुकान-दफ्तरों को फ्री-होल्ड कराने के लिए युद्ध स्तर पर काम होगा.

इस संकल्प पत्र में कहा कि हम अपने पांच वर्ष के कार्यकाल में कम से कम 10 लाख बेरोजगारों को रोजगार देंगे. साथ ही आगामी वर्षों में दिल्ली के घरों में पाइप से रसोई गैस की सुविधा उपलब्ध कराने के लिए हम प्रतिबद्ध हैं. इसके अलावा सामान्य वर्ग में आर्थिक रूप से पिछड़े लोगों के विकास के लिए ‘आर्थिक पिछड़ा वर्ग आयोग’ का गठन किया जाएगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!