सबसे बड़ा खलनायक कौन?

जेके कर
बॉलीवड के इतिहास का सबसे नामी खलनायक कौन है? शोले का गब्बर सिंह या शान का शाकाल? हालांकि, यह सवाल ही गलत है क्योंकि इसमें एक ही विकल्प दिया गया है. इन दोनों में से किसी एक को चुनना है. यदि ऐसा किया गया तो उन खलनायकों के साथ नाइंसाफी होगी जिन्होंने अपना पूरा दम लगाकर बॉलीवुड में खलनाइकी की है. लोग उस अजीत को कैसे भूल सकते हैं जो सिने पर्दे पर अक्सर कहा करते थे, मोना डॉर्लिंग, डोन्ट बी सिली. इसी तरह से उस शेठ्ठी को कैसे भूला जा सकता है जिसने मार खा-खाकर धर्मेन्द्र को हीमैन बनने दिया.

भला अपने समय में प्राण तथा विनोद खन्ना ने भी कम खलनाइकी की है जिसकी बदौलत प्राण बाद में करेक्टर हीरो तथा विनोद खन्ना सीधे हीरो बन गये थे. खलनायक तो संजय दत्त भी बने थे पर फिल्म में उनका दर्जा हीरो का ही था विलेन का नहीं. इसलिये उन्हें इस रेस से बाहर किया जाये तो नाइंसाफी नहीं होगी.


दरअसल, इस बहाने बॉलीवुड के इतिहास को एक कोण से देखने की कोशिश की जा रही है. वैसे तो बॉलीवुड में खलनायिकाओं की भी कमी नहीं रही है. बिंदू से लेकर शशिकला ने अपने समय में सिने दर्शकों पर गहरी छाप छोड़ी है. अमिताभ बच्चन भूतनाथ में भूत बन चुके हैं तो आमिर खान पीके में एलियन. लेकिन फिलहाल मामले को खलनाइकी तक ही सीमित रखा जाये.

बॉलीवुड के इतिहास में केवल दो मामले ऐसे आये हैं जब पोस्टर पर खलनायक को प्रमुखता से पेश किया गया था. पहला फिल्म शोले में अमजद खान को गब्बर सिंह के रूप में तो फिल्म शान में खुभूषण खरबंदा को शाकाल के रूप में. दोनों ही फिल्में हिट रही है. शोले को तो बॉलीवुड के ब्लाकबस्टर सिनेमाओं में गिना जाता है.

फिल्म शोले को विशेष तौर पर गब्बर सिंह के डॉयलाग के कारण याद किया जाता है. जैसे- कितने आदमी थे, दो सरदार: अरे ओ सांभा: ये हाथ हमकों दे दे ठाकुर: तेरा क्या होगा कालिया: यहां से पचास-पचास कोस दूर गांव में जब रात को बच्चा नहीं रोता है तो मां कहती है कि सो जा नहीं तो गब्बर सिंह आ जायेगा: जो डर गया समझो मर गया आदि. शोले फिल्म के दूसरे डॉयलाग जैसे- इतना सन्नाटा क्यों है भाई: बसंती इन कुत्तों के सामने मत नाचना: भाग धन्नों भाग, आज तेरी बसंती की इज्जत का सवाल है जैसे डॉयलाग आज भी सिने दर्शकों को पुराने दिनों में ले जाने के लिये काफी है.

गब्बर सिंह के डॉयलाग कितने आदमी थे को कई अलग-अलग मौकों पर दोहराया जाता रहा है. यहां तक की महफिल को शांत देखकर इतना सन्नाटा क्यों है भाई कहने से भी लोग नहीं चूकते हैं. बॉलीवुड का कौन सा खलनायक सबसे शीर्ष पर है इसके बारे में लोगों की अलग-अलग राय हो सकती है. परन्तु इतना सच है कि पुराने जमाने के किसी व्यक्ति को पीछे से यदि कहा जाये, कितने आदमी थे तो बरबस ही उसका जवाब होता है दो सरदार.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!