भाजपा के ‘बुरे दिन’ अभी नहीं

नई दिल्ली | विशेष संवाददाता: नोटबंदी का BJP के वोटबैंक पर विपरीत प्रभाव नहीं पड़ा है. मंगलवार को घोषित हुये उप चुनाव के नतीजे जिसमें विधानसभा तथा लोकसभा के लिये चुनाव हुये हैं भाजपा को पश्चिम बंगाल में बढ़ती मिलती दिख रही है. मध्यप्रदेश एवं असम में भाजपा ने, पश्चिम बंगाल में तृणमूल कांग्रेस ने, त्रिपुरा में माकपा ने तथा पुड्डुचेरी में कांग्रेस ने अपनी स्थिति बरकरार रखी है. वहीं, तमिलनाडु में एआईडीएमके ने डीएमके से 1 विधानसभा सीट जीत ली है.

नोटबंदी के बाद हुये उप चुनाव के मतदान से जो नतीजे निकलकर सामने आ रहें हैं उससे भाजपा को कहीं पर भी नुकसान होता नहीं दिख रहा है. त्रिपुरा विधानसभा में माकपा पहले, भाजपा दूसरे, तृणमूल कांग्रेस तीसरे तथा कांग्रेस चौथे स्थान पर है. त्रिपुरा में भाजपा ने तृणमूल कांग्रेस से 1% से भी कम मार्जिन से बढ़त हासिल की है.


पश्चिम बंगाल में हुये विधानसभा उप चुनावों में तृणमूल कांग्रेस पहले, माकपा दूसरे, भाजपा तीसरे तथा कांग्रेस चौथे स्थान पर है. वहीं, पश्चिम बंगाल के लोकसभा के उप चुनाव में तृणमूल कांग्रेस पहले, भाजपा दूसरे, माकपा तीसरे तथा कांग्रेस चौथे स्थान पर है. पश्चिम बंगाल में जो कभी माकपा का तीन दशकों तक गढ़ रहा है के लोकसभा उप चुनाव में भाजपा का दूसरे नंबर पर आना तथा माकपा से दुगने मत मिलने किसी भी तरह से उसके ‘बुरे दिन’ की आशंका को खारिज करता है.

मध्यप्रदेश के शहडोल में भाजपा का जीत का अंतर कम हुआ है लेकिन नेपानगर विधानसभा में भाजपा का जीत का अंतर बढ़ा है. मध्यप्रदेश की 1 विधानसभा सीट पर भाजपा को विजय मिली है. यहां भाजपा को 60.3% तथा कांग्रेस को 34.7% वोट मिले हैं. मध्यप्रदेश में भाजपा को लोकसभा की 1 सीट मिली है. भाजपा को यहां 44.4%, कांग्रेस को 38.9% तथा सीपीआई को 2% मिले हैं.

तमिलनाडु में एआईडीएमके ने तंजौर और तिरूप्परनकुंद्रम विधानसभा सीटों पर अपना कब्जा बरकरार रखा जबकि अर्वाक्कुरिची विधानसभा सीट द्रमुक से छीन ली है. तमिलनाडु की विधानसभा की 3 सीटें पर एआईडीएमके जीती हैं. उसे राज्य में 54.6%, डीएमके को 37.8% तथा भाजपा को 2.5% वोट मिले हैं. कांग्रेस को यहां से 1.6% वोट मिले हैं.

त्रिपुरा में माकपा ने कांग्रेस से बरजाला सीट छीनी और खोवाई सीट पर अपना कब्जा बरकरार रखा है. त्रिपुरा विधानसभा के 2 सीटें पर माकपा को विजय मिली हैं. माकपा को 55.7%, भाजपा को 20.5%, तृणमूल कांग्रेस को 19.8% तथा कांग्रेस को 2.4% वोट मिले हैं.

पुड्डुचेरी में कांग्रेस के मुख्यमंत्री वी नारायणसामी ने नेल्लीथोपे विधानसभा सीट पर हुये उप-चुनाव में जीत हासिल की है. पुड्डुचेरी विधानसभा के 1 सीट कांग्रेस पर विजयी रही है. कांग्रेस को 69.6% वोट मिले हैं तथा एआईडीएमके को 28.1% वोट मिले हैं.

अरुणाचल प्रदेश में भाजपा नेता और पूर्वोत्तर जनतांत्रिक गठबंधन के उम्मीदवार दसांगलु पुल ने अरुणाचल प्रदेश की हयुलियांग विधानसभा सीट पर हुए उप-चुनाव में जीत हासिल की है. अरुणाचल विधानसभा प्रदेश के 1 सीट पर भाजपा जीती है. भाजपा को 54.2% तथा कांग्रेस को 44.7% वोट मिले हैं.

पश्चिम बंगाल की तमलुक लोकसभा सीट से तृणमूल कांग्रेस के दिव्येंदु अधिकारी तथा कूचबिहार लोकसभा सीट पर हुये उप-चुनाव में भी पार्थप्रतिम रॉय को जीत मिली है. मोंटेश्वर विधानसभा सीट पर हुये उप-चुनाव में तृणमूल कांग्रेस उम्मीदवार सैकत पांजा को बड़ी जीत हासिल हुई है. पश्चिम बंगाल के 1 सीट पर तृणमूल कांग्रेस को जीत मिली है. तृणमूल कांग्रेस को 77.6%, माकपा को 10.6%, भाजपा को 8.5% तथा कांग्रेस को 1.5% वोट मिले हैं. पश्चिम बंगाल के 2 लोकसभा की सीटें तृणमूल कांग्रेस को मिली हैं. राज्य में तृणमूल कांग्रेस को 59.4%, भाजपा को 21.8%, माकपा को10.6% तथा कांग्रेस को 2% वोट मिले हैं.

असम की लखीमपुर लोकसभा सीट पर हुये उप-चुनाव में भाजपा उम्मीदवार प्रदान बरूआ को जीत मिली है. भाजपा उम्मीदवार मानसिंह रोंगपी ने बैठालांगसो विधानसभा सीट पर जीत दर्ज की है. असम विधानसभा के 1 सीट पर भाजपा को विजय मिली है. असम में भाजपा को 53.8% तथा 41.4% वोट मिले हैं. असम की 1 लोकसभा सीट पर भाजपा विजयी रही है. भाजपा को असम में 54.9%, कांग्रेस को 36% तथा माकपा को 4.2% वोट मिले हैं.

(इनपुट भारत निर्वाचन आयोग की वेबसाइट. समय 10:11 बजे तक का अपडेट)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!