नगदी में लेनदेन महंगा पड़ेगा

नई दिल्ली | समाचार डेस्क: निजी एवं सरकारी बैंकों से नगद लेनदेन महंगा पड़ेगा. कैशलेस व्यवस्था को बढ़ावा देने के लिये निजी बैंकों में 1 मार्च से तथा सरकारी बैंकों में 1 अप्रैल से नगद लेनदेन महंगा हो रहा है. अबसे नगदी पर मुफ्त लेनदेन की सीमा तक कर दी जा रही है ताकि लोगों का झुकाव कैशलेस ट्रांजेक्शन की ओर बढ़े. नई व्यवास्था के अऩुसार

SBI से ट्रांजेक्शन पर-
अगर आपका सेविंग अकाउंट भारतीय स्‍टेट बैंक में है तो आप माह में एटीएम से तीन बार ही कैश ट्रांजेक्‍शन फ्री में कर पायेंगे. अगर आप इससे ज्यादा कैश ट्रांजेक्‍शन करते है तो आपको हर ट्रांजेक्‍शन पर 50 रुपये और सर्विस चार्ज देना होगा. भारतीय स्‍टेट बैंक ने 1 अप्रैल 2017 से यह नियम लागू करने का फैसला किया है. साथ ही बैंक ने व्यवसायिक प्रतिनिधि और पीओएस से नकदी निकालने पर निर्धारित सीमा के बाद शुल्क लगेगा.


HDFC BANK से ट्रांजेक्शन पर-
अगर आप एचडीएफसी बैंक के ग्राहक है तो बता दें कि 1 मार्च से 4 बार जमा-निकासी पर किसी तरह कोई चार्ज नही लगेगा. इसके बाद हर जमा-निकासी पर 150 रुपये सर्विस चार्ज देना होगा. एक महीने में आप एचडीएफसी की होम ब्रांच से 2 लाख तक निकाल सकते हैं. इसके उपर आप कैश की निकासी करते हैं तो आपको हर हजार रुपये पर 5 रुपए या न्यूनतम चार्ज 150 देने होंगे. इसके अलावा दूसरी बैंक की ब्रांच से रोज 25,000 रूपये तक ट्रांजेक्शन मुफ्त कर सकेंगे. राहत की बात यह है कि सीनियर सिटीजन व बच्चों के खातों पर किसी तरह का चार्ज नहीं लगाया गया है.

AXIS BANK से ट्रांजेक्शन पर-
एक्सिस बैंक के ग्राहक होम ब्रांच से एक महीने में एक लाख रुपये तक जमा और निकासी कर सकते हैं. इसके अलावा पांचवें लेनदेन पर 150 रुपए सर्विस चार्ज देने होगा. इसके बाद हर लेनदेन पर हर हजार रुपये पर 5 रुपये या न्यूनतम चार्ज 150 देने होंगे.

ICICI Bank से ट्रांजेक्शन पर-
होम ब्रांच में चार से ज्यादा कैश ट्रांजेक्शन पर कम-से-कम 150 रुपये चार्ज किया जायेगा. इसके अलावा महीने लिमिट एक लाख रुपये तक रखी जा सकती है.

आरबीआई के पुराने निर्देश के अनुसार, अगर कोई अपने बैंक के एटीएम से महीने में 5 बार से ज्यादा ट्रांजेक्शन करता है तो उसे 20 रुपये चार्ज के रूप में देने पड़ते थे.

इसके तहत दिल्ली-एनसीआर, मुंबई, कोलकाता, हैदराबाद और बेंगलुरु में दूसरे बैंक के एटीएम यूज करने पर 3 ट्रांजैक्शन फ्री थे जबकि दूसरे शहरों में 5 ट्रांजैक्शन फ्री थे. 1 जनवरी से ये नियम फिर से लागू हो गये हैं.

नोटबंदी से पहले एसबीआई, पीएनबी और आईसीआईसीआई बैंक 5 ट्रांजैक्शन के बाद प्रति ट्रांजैक्शन पर 15 रुपये चार्ज करते थे. इनके अलावा ज्यादातर दूसरे बैंक हर एटीएम ट्रांजैक्शन पर 20 रुपये वसूल रहे थे. अब ये चार्ज फिर से शुरू हो गये हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!