नोटबंदी से कार्ड माफियाओं को लाभ

रायपुर | संवाददाता: नोटबंदी से कार्ड माफियाओं को फायदा पहुंचा है. छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में राज्य के नेताओँ के संग संवाददाताओं को संबोधित करते हुये अखिल भारतीय कांग्रेस समिति के सचिव आरसी खुंटिया ने कैशलेस इकोनामी पर कहा कि कैश तथा कार्ड में अंतर है. उन्होंने कहा कि यदि 100 रुपये का नोट 1 लाख बार अलग-अलग हाथों से गुजरेगा तो भी उसकी कीमत 100 रुपये ही रहने वाली है. जबकि पेटीएम जैसे माध्यम से यही 100 रुपये का नोट यदि 1 लाख लोगों के अकाउंट से गुजरेगा तो 2.5 फीसदी की दर से इससे 2.5 लाख रुपये कमा लिये जायेंगे.

उन्होंने आरोप लगाया कि कैशलेस लेनदेन से कार्ड माफियाओं को छोड़कर और किसी का लाभ नहीं होने वाला है. कांग्रेस के सचिव आरसी खुंटिया ने आरोप लगाया कि नोटबंदी का फैसला लेते वक्त प्रधानमंत्री ने वित्तमंत्री तथा रिजर्व बैंक से मशविरा तक नहीं किया है.


उन्होंने कहा कि नोटबंदी से काला धन बाहर नहीं आया है बल्कि कालेधन वालों को इसे सफेद करने का मौका जरूर मिल गया है. उल्लेखनीय है कि इन दिनों कांग्रेस के नेता राज्यों में घूम-घूमकर नोटबंदी के खिलाफ सरकार पर निशाना साध रहें हैं. गुरुवार को रायपुर में आरसी खुंटिया ने छत्तीसगढ़ के अध्यक्ष भूपेश बघेल तथा पूर्व नेता प्रतिपक्ष रवीन्द्र चौबे के साथ संवाददाताओं को संबोधित किया.

अखिल भारतीय कांग्रेस समिति के सचिव आरसी खुंटिया ने बताया कि 2 जनवरी को देशभर में प्रेस कांफ्रेस कर नोटबंदी की हकीकत को उजागार किया जायेगा. उसके बाद 5 जनवरी को सभी जिलों में कलेक्टोरेट का घेराव किया जायेगा तथा 8 जनवरी को महिला कांग्रेस देशभर में प्रदर्शन करेगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!