विस में उठेगा हवाई फायरिंग का मामला

अंबिकापुर | संवाददाता: छत्तीसगढ़ के मंत्री पुत्र के निजी गार्ड द्वारा दशहरा के दिन फूहड़ गाने पर हवाई फायरिंग तूल पकड़ता जा रहा है. सूत्रों की माने तो विपक्षी दल इस मामले को छत्तीसगढ़ विधानसभा में उठाने की तैयारी कर रहें हैं. 15 नवंबर से छत्तीसगढ़ विधानसभा का सत्र प्रारंभ हो रहा है.

छत्तीसगढ़ विधानसभा के नेता प्रतिपक्ष टीएस सिंहदेव ने मुख्यमंत्री को पत्र लिखकर इस मामले की सूक्ष्म जांच कराने के कहा है. पुलिस की जांच भी चल रही है लेकिन पुलिस का कहना है कि उन्हें इस मामले में कोई शिकायत नहीं मिली है.


उल्लेखनीय है कि दशहरा के दिन श्रममंत्री पुत्र विजय रजवाड़े के निजी गार्ड द्वारा हवाई फायरिंग की जांच के आदेश दिये गये हैं. सरगुजा रेंज के आईजीपी हिमांशु गुप्ता ने मामले के राजपत्रित जांच के आदेश दे दिये हैं. बैकुण्ठपुर के डीएसपी को इसकी जिम्मदारी दी गई है.

वहीं कोरिया के पुलिस अधीक्षक ने सांस्कृतिक कार्यक्रम में हवाई फायरिंग किये जाने की घटना को गंभीरता से लेते हुये पटना थाना प्रभारी आरपी साहू को लाइन अटैच कर दिया है.

गौरतलब है कि कोरिया के पटना गांव में दशहरे के दिन सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन किया गया था. जिसमें छत्तीसगढ़ के श्रममंत्री भैय्यालाल रजवाड़े के पुत्र विजय रजवाड़े भी उपस्थित थे. पहले तो भक्ति गीत चलता रहा फिर जैसे-जैसे रात गहराती गई फूहड़ नृत्य प्रस्तुत किये जाने लगे.

रात को करीब 3.15 बजे विजय रजवाड़े के निजी गार्ड सुखपाल सिंह ने अचानक कथित तौर पर हवाई फायर कर दिया. उसके बाद लोगों ने उसे दोबारा ऐसा ही करने की फरमाइश की तो उसने फिर से हवाई फायर कर दिया. परन्तु तीसरी बार बंदूक जाम हो गया.

बताया जा रहा है कि उस समय मौके पर पुलिस भी मौजूद थी परन्तु उन्होंने हवाई फायरिंग को रोकने की कोई कोशिश नहीं की. मंत्री पुत्र के निजी गार्ड द्वारा फूहड़ नृत्य के दौरान हवाई फायरिंग करने का मामला मीडिया तथा सोशल मीडिया पर खूब उछला.

वहीं भाजपा से जुड़े लोगों का कहना है कि वह सांस्कृतिक कार्यक्रम हमारे द्वारा आयोजित नहीं किया गया था. जबरदस्ती हमें बदनाम करने की कोशिश की जा रही है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!