कल्लूरी का जवाब- हंसी मजाक किया

रायपुर | संवाददाता: बस्तर के पूर्व आईजी कल्लूरी ने उन्हें जारी कारण बताओ नोटिस का जवाब दे दिया है. सूत्रों के अनुसार अपने जवाब में कहा है कि वाट्सअप पर उन्होंने हंसी-मजाक के इरादे से ‘थ्री इडियट्स’ वाली पोस्ट की थी. उनका इरादा किसी को नीचा दिखाना नहीं था. गौरतलब है कि बस्तर के पूर्व आईजी जो इन दिनों रायपुर स्थित पुलिस मुख्यालय में पदस्थ हैं को शनिवार को डीजीपी की ओर से कारण बताओं नोटिस जारी कर तीन दिनों के भीतर जवाब देने को कहा गया था.

गौरतलब है कि बस्तर के पूर्व आईजी शिवराम प्रसाद कल्लूरी को शनिवार को पुलिस मुख्यालय ने एक साथ दो कारण बताओ नोटिस जारी किया गया था. इसके अलावा उन्हें एक चेतावनी पत्र भी दिया गया.


पहली नोटिस में कहा गया कि बस्तर में अभी हाल ही में हुये स्थानान्तरण के संबंध में सोशल मीडिया में आपके द्वारा ट्वीट किये गये हैं और इनका प्रसारण टीवी चैनलों में हो रहा है. कारण बताओ नोटिस में आगे कहा गया कि इस संबंध में यह उल्लेखनीय है कि अभी हाल ही में फरवरी 2017 में राज्य शासन द्वारा सोशल मीडिया पालिसी जारी की गई है, जिसमें इस तरह की कार्यवाही की मनाही है. इस कारण से आपका उपरोक्त कृत्य शासन के इस नीति के विरुद्ध है.

दूसरे कारण बताओ नोटिस में कहा गया कि आप 2 मार्च 2017 को जगदलपुर में टाटा मोटर्स के कार्यक्रम में शामिल हुये थे. सामान्य प्रशासन विभाग द्वारा जारी परिपत्र में स्पष्ट है कि सरकारी अधिकारियों को इस तरह के निजी कार्यक्रमों में शामिल नहीं होना है. इस प्रकार आपका उक्त कार्यक्रम में उपस्थित होना उपरोक्त परिपत्र का उल्लंघन है.

इसके अलावा कल्लूरी को डीजीपी द्वारा हस्ताक्षरित एक पत्र के माध्यम से कहा गया है कि शासकीय या अशासकीय कार्य से पुलिस मुख्यालय से बाहर जाते समय अनुमति या अवकाश लेकर जायें.

उनके जवाब पर अब अंतिम निर्णय अब डीजीपी के लेना है. पुलिस मुख्यालय में चर्चा है कि उनके खिलाफ डिसीप्लीनरी एक्शन यानी अनुशासनात्मक कार्रवाई की जा सकती है. वहीं, कुछ अफसरों का यह भी मानना है कि उन्हें चेतावनी देकर छोड़ा जा सकता है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!