हाथियों से आतंकित उग्र आंदोलन करेंगे

महासमुंद | समाचार डेस्क: छत्तीसगढ़ के महासमुंद के सिरपुर क्षेत्र के 30 गांव के लोगों ने उग्र आंदोलन की चेतावनी दी है. सिरपुर क्षेत्र के गांव के लोगों ने 7 दिन के भीतर सोलर चलित फेंसिग लगाने, फसल नुकसान का मुआवजा देने तथा हाथियों को भगाने की मांग को लेकर 25 अक्टूबर से धरना, प्रदर्शन तथा उग्र आंदोलन की चेतावनी दी है. इस संबंध में इन 30 गांव के लोगों तथा किसानों ने जिला कलेक्टर को गुरुवार को ज्ञापन सौंपा हैं.

गांव वालों का कहना है कि पिछले तीन माह से वे हाथियों के आतंक से परेशान हैं. हाथियों के हमलें से इस साल अब तक 2 लोगों की मौत हो चुकी है तथा 1 युवक बुरी तरह से घायल हुआ है. गांव वालों का घर से निकला दूभर हो गया है. हाथियों ने इन गांवों में कई-कई एकड़ की फसल बर्बाद कर दी है. जिससे कर्ज के बोझ तले दबे किसानों को चिंता सता रही है कि किस तरह से वे कर्ज चुकता करेंगे.


गांव वालों की मांग है कि प्रति एकड़ की क्षति के लिये धान की गणना 15 क्विंटल के हिसाब से की जाये.

महासमुंद के सिरपुर क्षेत्र के पासिद, मुड़ियाडीह, चुहरी, मरौद, के़ड़ियाडीह, रायकेरा, सुकुलबाय, तालाझर, केसलडीह, खिरसाली, बंदोरा, सेनकपाट, खड़सा, मोहकम, लहंगर, छपोराडीह, सिरपुर, खमतराई, मुड़ियाडीह, अर्जुनी, अवरई, बलदाकछार, बरबसपुर, खैरा, अमलोर, नांदबारु, छतालडबरा, खड़रुपार, अचानकपुर व गुड़रुडीह गांव हाथियों के आतंक से प्रभावित है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!