‘सुरा-राज’ पर अटल, सरकार

रायपुर | संवाददाता: बुधवार को शराब नीति का विरोध सदन से सड़क तक किया गया.
छत्तीसगढ़ विधानसभा में भूपेश बघेल ने तंज कसते हुये कहा अंत्योदय से सर्वोदय के दावे करने वाली सरकार राज्य में गरीबों को शराब पिलाने का काम कर रही है. पहले जो कोचिया करते थे, वह अब सरकार करेगी. 2004 में पहली बार सरकार बनी तब अटल बिहारी बाजपेयी ने कहा था छत्तीसगढ़ में सुराज आयेगा, लेकिन यहां ‘सुरा-राज’ आ गया. हाये कुर्सी है, जनाजा तो नहीं, कुछ नहीं कर सकते तो उतर क्यों नहीं जाते. विधानसभा में बजट पर सामान्य चर्चा के दौरान भूपेश बघेल ने सरकार पर इस तरह से तंज कसा.

वहीं, मुख्यमंत्री रमन सिंह ने विधानसभा में पहली बार राज्य की नई आबकारी नीति पर कहा सरकार ने शराब बेचने का जो फैसला किया है उस पर कायम रहेगी. उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा शराब बेचने का निर्णय इसलिये लिया गया कि राज्य की ढ़ाई करोड़ जनता शराब कोचिया एवं दलालों से त्रस्त है. इनके आतंक के कारण जनता में भारी आक्रोश है. सरकार ने आंशिक शराबबंदी के पहले चरण में 250 शराब दुकानों को बंद भी कर दिया था. सरकार शराब ठेकेदारों की गुंडागर्दी नहीं चलने देगी. सरकार ने जो निर्णय लिया है उससे पीछे हटने का सवाल ही नहीं है.


छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री रमन सिंह ने कहा कि कुछ साल पहले सरकार ने जब पीडीएस की नई व्यवस्था शुरु की थी तब भी इस फैसले की कड़ी आलोचना हुई थी. बाद में बेहतर व्यवस्था बनी, पूरे देश में छत्तीसगढ़ के पीडीएस को सराहा जा रहा है.

उधर, रायपुर की सड़कों पर महिला कांग्रेस तथा जोगी कांग्रेस ने बवाल मचा दिया. राज्यभर से आई महिला कांग्रेस की महिलाओँ ने काली साड़ी पहनकर मार्च निकाला. महिला कांग्रेसियों का एक दल तो मुख्यमंत्री निवास के पीछे पहुंच गया तथा शराब की बोतलें फोड़ी. इधर, मुख्यमंत्री निवास की ओर बढ़ रही महिला कांग्रसियों से पुलिस की जमकर झड़प भी हुई.

रायपुर जिला कांग्रेस कमेटी ने इस आंदोलन में 10 हजार महिलाओँ के शामिल होने का दावा किया है. इस विरोध प्रदर्शन में भूपेश बघेल, रविन्द्र चौबे, चरणदास महंत, मोहम्मद अकबर, सत्यनारायण शर्मा सहित दिग्गज कांग्रसी नेता शामिल हुये.

जोगी कांग्रेस ने शराबबंदी की मांग पर विधानसभा घेरने की कोशिश की. हजारों की संख्या में जोगी कांग्रेस के सदस्यों ने गिरफ्तारी दी. विधानसभा घेराव से पहले पंडरी स्थित मंडी गेट पर एक सभा हुई. उसके बाद गुलाबी रंग की साड़ी में महिलाओँ ने विधानसभा की ओर मार्च किया. सभा को संबोधित करते हुये अजीत जोगी ने कहा मुख्यमंत्री ने शराब बिक्री का सरकारीकरण कर दिया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!