महिलाओं को देना होगा सीने का माप

रायपुर | संवाददाता: छत्तीसगढ़ में नौकरी के लिये महिलाओं को भी सीने का माप देना होगा. इतना ही नहीं महिलाओं को पांच सेंटीमीटर सीना फुलाना भी होगा. विज्ञापन में महिलाओं की सीने के न्यूनतम और अधिकतम विस्तार की सीमा मांगी गई है.

वन एसडीओ और रेंजर के पदों पर भर्ती के लिये राज्य सरकार ने यह शर्त रखी है. सरकार के इस शर्त को लेकर महिला संगठन भी हैरान है.


गौरतलब है कि मध्यप्रदेश में भी इसी तरह से महिला विरोधी विज्ञापन सप्ताह भर पहले पीएससी ने जारी की थी, जिसे लेकर भारी विवाद हुआ था. लेकिन छत्तीसगढ़ सरकार ने इस विवाद से कोई सीख नहीं ली. हद ये है कि परीक्षा भर्ती के विज्ञापन के लिये जिम्मेवार अधिकारी इससे पल्ला झाड़ रहे हैं.

छत्तीसगढ़ में वन एसडीओ और रेंजर के 49 पदों पर भर्ती होनी है. इसके लिये छत्तीसगढ़ लोक सेवा आयोग ने विज्ञापन जारी किया है. इन पदों में से 15 महिलाओं के लिये आरक्षित हैं. सरकारी विज्ञापन के अनुसार महिलाओं के सीने का माप 74 सेंटीमीटर होना जरुरी है. इसके अलावा सीना फुलाकर यह माप 79 सेमी होना चाहिये.

राज्य के प्रधान मुख्य वन संरक्षक आरके सिंह ने यह कह कर पूरे मामले से पल्ला झाड़ लिया है कि यह पहले से चला आ रहा भर्ती नियम है और उन्होंने कुछ नया नहीं किया है. दूसरी ओर भर्ती परीक्षा आयोजित करने वाले लोक सेवा आयोग यानी पीएससी के अध्यक्ष के आर पिस्दा ने कहा है कि यह हमारा काम नहीं है कि नियम बनाये. भर्ती से संबंधित योग्यता को तय करने का काम संबंधित विभाग का है.

इस मामले में महिला संगठनों ने कहा है कि एक तरफ तो राज्य सरकार महिला सशक्तिकरण की बात करती है, दूसरी ओर इस तरह से आपत्तिजनक विज्ञापन जारी कर के महिलाओं को अपमानित और लज्जित करने का काम कर रही है. महिला संगठनों ने कहा है कि महिलाओं से सीने की माप और न्यूनतम और अधिकतम विस्तार की मांग बेहद आपत्तिजनक है और सेना व पुलिस में भी इस तरह की मांग नहीं की जाती.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!