सरगुजा: हाथियों ने 2 को कुचला

अंबिकापुर | संवाददाता: छत्तीसगढ़ के सरगुजा में हाथियों ने दो युवकों को कुचलकर मार डाला है. बीते दो दिनों में हाथियों ने प्रतापपुर तथा राजपुर में एक-एक युवक को मार डाला है. प्रतापपुर में ग्रामीणों का दल शनिवार को हाथियों को खदेड़ने की कोशिश कर रहा था. इस दौरान हाथियों ने 16 वर्षीय अकबर को सूंड से उठाकर जमीन पर पटक दिया. युवक को जमीन पर पटकने के बाद भी हाथी नहीं रुके बल्कि उसे पैरों तले कुचल दिया गया.

अकबर को मारने के बाद हाथियों के झुंड ने उसको चारों तरफ से घेरकर उसको बंधक बनाकर रखा गया. इस दौरान कोई ग्रामीण अकबर के शव तक नहीं पहुंच पाया. सूचना मिलने पर देर शाम पुलिस तथा वन विभाग का अमला वहां पर पहुंचा.


इससे पहले शुक्रवार की रात हाथियों ने पतरापारा के जंगलों में 20 वर्षीय कुंवरसाय को कुचलकर मार डाला. दरअसल गांव वाले हाथियों को खदेड़ने की कोशिश कर रहे थे उसमें कुंवरसाय भी शामिल था. रात होने के कारण वन विभाग ने गांव वालों को वापस भेज दिया. अंधेरा होने के कारण किसी ने उस पर ध्यान नहीं दिया.

सुबह जब ग्रामीण उसकी तलाश में निकले तो पुटुस की झाड़ियों में युवक की क्षत-विक्षत लाश मिली. इससे जाहिर होता है कि हाथियों ने उसे कुचलकर मारा. सूचना मिलने पर पुलिस-प्रशासन के अधिकारी पहुंचे. वन विभाग ने कुंअरसाय के परिजनों को तत्काल 25 हजार रुपयों की सहायता प्रदान की.

हाथियों द्वारा ग्रामीणों को मारे जाने की अन्य खबरें-

छत्तीसगढ़ में गज आतंक, 3 मौतें

छत्तीसगढ़ के हत्यारे हाथी

गजराज का तांडव, वृद्धा को कुचला

छत्तीसगढ़: हाथी ने ग्रामीण को मारा

छत्तीसगढ़: हाथियों ने किसान को मारा

अंबिकापुर: हाथियों ने युवक को कुचला

हाथियों ने लड़की के कर डाले टुकड़े

भालू का भी आतंक

शनिवार को अंबिकापुर के दरिमा से लगे गांव नवगई में मैनपाट की ओर से एक भालू घुस आया. घटना सुबह के 11 बजे के करीब की है. बस्ती में भालू के घुस आने से दहशत फैल गई. इससे पहले भी इस क्षेत्र में भालू के हमलें में कई लोग घायल हो चुके हैं.

भालू ने करीब ढाई घंटे तक गांव में दहशत बनाकर रखी. उसके बाद वन विभाग के लोगों ने उसे बेहोशकर पिंजरे में कैद कर लिया.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!