शराब दुकान खुलने का समय बदला

रायपुर | संवाददाता: छत्तीसगढ़ में शनिवार से अब राज्य की सरकार ही शराब बेचेगी. इससे पहले निजी कंपनियां या उनके लोग शराब के ठेके लेते थे और शराब की बिक्री करते थे. लेकिन राज्य सरकार ने नया विधेयक ला कर अब खुद ही शराब बेचने का निर्णय लिया है. जिसके लिये पिछले महीने भर से पूरे राज्य में तैयारी चल रही है. हालांकि राज्य सरकार के इस निर्णय का भारी विरोध हो रहा है और राज्य भर में घमासान मचा हुआ है.

इसके अलावा राज्य सरकार ने सुबह-सुबह शराब बेचने पर भी रोक लगा दी है. छत्तीसगढ़ में सुबह-सुबह शराब बिकने के दिन लद गये हैं. अब राज्य में शराब दुकानें दोपहर 12 बजे ही खुल पायेंगी. इसके अलावा दुकानों को रात 9 बजे बंद भी करना होगा. राज्य सरकार ने शुक्रवार को इस आशय का आदेश जारी किया है.


इससे पहले छत्तीसगढ़ में शराब की दुकानें सुबह खुलने वाली दूध की दुकानों को भी मात कर देती थीं और इन दुकानों के शटर सुबह से देर रात तक खुले रहते थे. यहां तक कि कई दुकानों में चोर दरवाज़ा बना दिया गया था, जहां किसी भी समय निर्बाध रुप से शराब की बिक्री चलती रहती थी. अब एक अप्रैल से ऐसा नहीं होगा.

एक अप्रैल से राज्य सरकार ने खुद ही शराब बेचने का निर्णय लिया है और माना जा रहा है कि कम से कम समय के मामले में सरकारी दुकानें पाबंद रहेंगी. इन शराब दुकानों को सरकारी कर्मचारी ही चलायेंगे और उसके नफा-नुकसान से इन कर्मचारियों का कोई लेना-देना नहीं होगा, इसलिये दोपहर 12 बजे दुकान खुलने और रात 9 बजे दुकान बंद करने में उन्हें कोई परेशानी नहीं होगी.

इस प्रयोग के बाद यह भी माना जा रहा है कि इससे शराब की खपत में कमी आयेगी. इस बीच राज्य के आबकारी मंत्री अमर अग्रवाल ने कहा है कि सरकार द्वारा खुद शराब बेचे जाने के निर्णय को शराबबंदी की दिशा में सरकार द्वारा उठाया गया कदम माना जाना चाहिये.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!