देश भर में वन्यजीवों को लेकर सतर्कता के निर्देश

रायपुर | संवाददाता: अमरीका में एक बाघिन के कोरोना से संक्रमित होने के बाद भारत में भी वन्यजीवों को लेकर सतर्कता बरतने के निर्देश दिये गये हैं. केंद्रीय चिड़ियाघर प्राधिकरण यानी सीजेडए ने सभी राज्यों को पत्र लिख कर सतर्क रहने और संदिग्ध वन्यजीवों के नमूने लेने के निर्देश दिये हैं.

सीजेडए के सदस्य सचिव एसपी यादव ने राज्यों और केंद्र शासित क्षेत्रों को लिखे गए एक पत्र में कहा, ‘अमेरिका के कृषि विभाग की राष्ट्रीय पशु चिकित्सा सेवा प्रयोगशाला ने न्यूयॉर्क के ब्रोन्क्स चिड़ियाघर में एक बाघिन के कोविड-19 से संक्रमित होने की पुष्टि की है.’


पत्र में कहा गया है, ‘इसलिए देश के सभी चिड़ियाघरों को सलाह दी जाती है कि वे सतर्क रहें और सीसीटीवी के जरिए जानवरों के किसी भी असामान्य व्यवहार या लक्षण का पता लगाने के लिए हर पल नजर रखें’.

प्राधिकरण ने कहा कि स्तनपायी जीव खासतौर पर बिल्लियों, गंधबिलाव और बंदरों की सतर्कता से निगरानी करने और संदिग्ध मामलों के नमूने पाक्षिक रूप से कोविड-19 की जांच के लिए तय किए गए पशु स्वास्थ्य संस्थानों में भेजे जाएं.

पत्र में कहा गया है कि नमूने राष्ट्रीय उच्च सुरक्षा पशुरोग संस्थान-भोपाल, राष्ट्रीय अश्व अनुसंधान केंद्र, हिसार और भारतीय पशुचिकित्सा अनुसंधान संस्थान-बरेली में भेजे जा सकते हैं. पत्र में बीमार पशुओं को पृथक वास में रखने को कहा गया है.

पत्र में कहा गया है कि पशुओं की देखरेख करने वालों को बिना सुरक्षा कवच (बेहतर हो कि निजी सुरक्षात्मक कवच) के जानवरों के नजदीक जाने की अनुमति नहीं होगी और जानवरों को खाना खिलाते समय भी कम से कम संपर्क ही करना चाहिए. तय सरकारी नोडल एजेंसियों के साथ सहयोग की सलाह दी जाती है कि वे जांच और निगरानी के संबंध में नामित नोडल एजेंसियों से समन्वय करें.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!