वैक्सीन नए कोरोना वैरिएंट पर भी कारगर- आईसीएमआर

नई दिल्ली | डेस्क: देश में कोरोना वायरस से बचाव के लिए लगाई जा रही कोवैक्सिन और कोविशील्ड को लेकर इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (आईसीएमआर) ने दावा किया है कि नए म्यूटेंट वाले कोविड-19 के लिए भी कारगर है.

बीबीसी के अनुसार आईसीएमआर ने कहा है कि जिन लोगों को वैक्सीन लगी थी उनमें से बेहद कम लोगों को कोरोना का संक्रमण हुआ है.


आईसीएमआर के डायरेक्टर बलरामम भार्गव ने बताया कि “ये वैक्सीन निश्चित रूप से बीमारी से बचाती हैं. हालांकि, प्रतिरक्षा क्षमता हर ख़ुराक के दो सप्ताह बाद विकसित होना शुरू होती है और हर व्यक्ति के लिए ये अलग भी हो सकता है. पहली खुराक के बाद भी, यदि वायरस का संपर्क होता है, तो कोई भी पॉज़िटिव हो सकता है.”

भार्गव के अनुसार कोवैक्सीन की खुराक़ लेने वाले 1.1 करोड़ लोगों में से 93,56,436 ने इसकी पहली ख़ुराक लगाई और इनमें से 4,208लोगों को कोरोना का संक्रमण हुआ.

वहीं 17,37,178 ने दोनों ख़ुराक ली और इनमें से 695 लोगों को कोविड-19 का संक्रमण हुआ.

प्रतिशत के लिहाज से ये 0.04% है. वहीं कोविशील्ड लगवाने वाले 11.6 करोड़ लोगों में से 10,03,02,745 ने इसकी पहली खुराक़ ली और इनमें से 17,145 में संक्रमण हुआ.

1.5 करोड़ लोगों के दूसरी खुराक़ ली जिनमें से 5014 लोगों को संक्रमण हुआ.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!