गोरक्षक पर मोदी के खिलाफ भड़का विहिप

नई दिल्ली | संवाददाता: गोरक्षक मामले में विहिप ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के उस बयान की निंदा की है, जिसमें मोदी ने गाय को बचाने के लिये व्यक्ति की हत्या की आलोचना की थी.विहिप नेताओं ने कहा है कि गोरक्षक पागल नहीं हैं.

गौरतलब है कि प्रधानमंत्री मोदी ने गुरुवार को कहा था कि गोरक्षा के नाम पर हिंसा महात्मा गांधी और विनोबा भावे के मूल्यों के ख़िलाफ़ है. उन्होंने कहा कि कुछ लोग पूरी रात असामाजिक कार्यों में लिप्त रहते हैं और दिन में गोरक्षक का चोला पहन लेते हैं. मैं राज्य सरकार से कहता हूं कि वे ऐसे लोगों का डोज़ियर बनाएं.


अब प्रधानमंत्री के इस बयान की आलोचना करते हुये विहिप नेता डॉक्टर सुरेंद्र जैन ने कहा है कि अधिकांश गोरक्षक कानून के रक्षक हैं, कानून के रखवाले हैं, इन्हें दोषी नहीं मानना चाहिए बल्कि गोरक्षकों का सम्मान करना चाहिए. कुछ लोग अपराध करते हैं उनके लिए संपूर्ण गोरक्षकों पर उंगली उठाने की ज़रूरत नहीं है.

जैन ने कहा कि अगर सड़क पर किसी लड़की का बलात्कार करने की कोशिश हो रही है और कोई व्यक्ति इसे रोकने की कोशिश करे और अगर संघर्ष हो तो क्या परिणाम होगा ये कह नहीं सकता.

विहिप नेता ने आवश्यक हिंसा पर बल देते हुये कहा कि किसी भी तरह की हिंसा को जायज़ नहीं ठहराया जा सकता लेकिन कोई हम पर हमला करेगा और हम चुपचाप बैठे रहें इसलिए क्योंकि हिंसा ठीक नहीं है, दुनिया में कोई समझदार आदमी इस बात को मान्यता प्रदान नहीं करेगा.

सरकार की आलोचना करते हुये उन्होंने कहा कि जितना संभव हो हिंसा से बचना चाहिए लेकिन गोहत्यारे भी गोहत्या पर कानून का पालन करें. कोई भी गोरक्षक पागल नहीं, ये गोरक्षक ज़िम्मेदार लोग हैं, देश के सभी राज्यों से मेरा निवेदन है कि कानून को लागू करें तो किसी को सड़क पर उतरने की ज़रूरत नहीं पड़ेगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!