जावेद अख्तर पर भड़की भाजपा

नई दिल्ली | संवाददाता: गीतकार और शायर जावेद अख्तर अब भाजपा के निशाने पर हैं. असल में मक्का मस्जिद ब्लास्ट केस में सभी आरोपियों के बरी हो जाने के बाद एनआईए पर तंज कसते हुए जावेद अख्तर ने ट्वीट किया था कि अब उसके पास अंतरधार्मिक शादियों की जांच करने का पूरा समय होगा. हालांकि जावेद अख्तर के इस कॉमेंट के बाद भाजपा ने भी उनपर पलटवार किया है. भाजपा ने कहा कि काश आपके अंदर कांग्रेस के ‘हिंदू आतंकवाद’ की भी आलोचना करने की ईमानदारी होती.

गौरतलब है कि 2007 के मक्का मस्जिद ब्लास्ट केस में एनआईए अदालत ने सबूतों के अभाव में असीमानंद समेत अन्य आरोपियों को बरी कर दिया है. विपक्ष ने एनआईए पर लचर जांच और ठीक से पैरवी नहीं करने का आरोप लगाया है. इसी संदर्भ में जावेद अख्तर की टिप्पणी भी सामने आई है. जावेद अख्तर ने ट्वीट कर कहा है कि, ‘मिशन पूरा हुआ! मक्का मस्जिद केस में भव्य सफलता के लिए एनआईए को मेरी बधाई. अब उनके पास अंतरधार्मिक शादियों की जांच करने का समय होगा.’


दरअसल केरल के चर्चित लव जिहाद मामले की जांच भी एनआईए ही कर रही है. हालांकि इस ट्वीट के सामने आते ही भाजपा जावेद अख्तर पर हमलावर हो गई है. भाजपा प्रवक्ता जीवीएल नरसिम्हा ने कहा है कि जावेद अख्तर काश ऐसी ही ईमानदारी कांग्रेस के ‘हिंदू टेरर’ की आलोचना में दिखाते.


जीवीएल ने अपने ट्वीट में तंज कसते हुए लिखा है कि ऐसा लगता है कि फिल्मों में आपने जैसी फिक्शनल स्क्रिप्ट लिखी उसी से राहुल गांधी प्रेरणा ले रहे है. या कथित तौर पर आपके ही आइडिया ‘मौत का सौदागर’ की तरह ही हिंदू टेरर भी आपके ही दिमाग की उपज है.

आपको बता दें कि मक्का मस्जिद ब्लास्ट केस में सभी आरोपियों के बरी होने के बाद से भाजपा ने कांग्रेस को निशाने पर ले रखा है. भाजपा बार-बार ‘हिंदू टेरर’ शब्द के इस्तेमाल के लिए सोनिया और राहुल गांधी से माफी की मांग कर रही है. भाजपा का कहना है कि उनके नेतृत्व में ही चिदंबरम और सुशील शिंदे ने हिंदू और भगवा टेरर जैसे शब्दों का इस्तेमाल किया था.

error: Content is protected !!