शराब की 50 दुकानें बंद, 50 नये बार शुरु

रायपुर | संवाददाता: छत्तीसगढ़ में शराबबंदी के नाम पर पिछले वित्तीय वर्ष में 50 शराब दुकाने बंद की गई थीं. लेकिन इस साल राज्य सरकार ने 50 नये बार खोल दिये हैं.

छत्तीसगढ़ में रमन सिंह के कार्यकाल से शराब बिक्री का काम राज्य सरकार ही करती है. राज्य सरकार के सार्वजनिक उपक्रम छत्तीसगढ़ स्टेट मार्केटिंग कार्पोरेशन लिमिटेड अभी राज्य में 650 शराब दुकानों के माध्यम से शराब बिक्री करती है. इनमें 337 देशी और 313 विदेशी शराब की दुकानें हैं.


रमन सिंह के कार्यकाल में यानी 2017-18 में शराब से राज्य सरकार को 4054.21 करोड़ रुपये का राजस्व मिला था. लेकिन अगले साल यानी 2018-19 में सरकार को शराब से 4491.35 करोड़ रुपये की कमाई हुई.

आंकड़े बताते हैं कि अकेले राजधानी रायपुर में राज्य सरकार की अनुमति से 23 नये बार खोले गये हैं. इसी तरह बिलासपुर ज़िले में 7, दुर्ग ज़िले में 6, राजनांदगांव में 2, धमतरी में 1, महासमुंद में 2, बालोद में 2, कबीरधाम में 1, कोरबा में 2, रायगढ़ ज़िले में 3 और कोरिया ज़िले में 1 बार खोला गया है.

हालांकि कांग्रेस पार्टी ने अपने जन घोषणापत्र में शराबबंदी की घोषणा की थी. 1 जनवरी 2019 को राज्य सरकार ने शराबबंदी के लिये एक कमेटी के निर्माण का फ़ैसला किया था. विधायक सत्यनारायण शर्मा की अध्यक्षता में एक राजनैतिक समिति का गठन भी हुआ.

विशेषज्ञों की एक कमेटी भी बनाई गई. लेकिन पिछले साल भर में विशेषज्ञों की इस कमेटी की केवल एक बैठक 9 अक्टूबर 2019 को आयोजित की गई थी. उसके बाद से इस कमेटी की एक बैठक तक नहीं बुलाई गई है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!