रमेश बैस के 3 तो कमलादेवी के 380 सवाल

नई दिल्ली | विशेष संवाददाता: संसद में सवाल पूछने में बैस फिर पीछे रह गये हैं. संसद के ताजा आंकड़े बताते हैं कि छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर से लगातार सांसद चुने जाने वाले भाजपा के सांसद रमेश बैस ने पूरे सत्र में केवल तीन सवाल पूछे हैं, जबकि जांजगीर-चांपा की भाजपा सांसद कमलादेवी पाटले ने रिकार्ड तोड़ 380 सवाल पूछे हैं.

लोकसभा में सांसदों की औसत उपस्थिति 82 फीसदी है जबकि छत्तीसगढ़ के सांसदों की औसत उपस्थिति 83 फीसदी है. लोकसभा में सांसदों के बहसों में भाग लेने का राष्ट्रीय औसत 41.4 फीसदी जबकि छत्तीसगढ़ के सांसदों द्वारा बहस में हिस्सेदारी का औसत मात्र 14.8 फीसदी का है.


इसी तरह से लोकसभा में सवाल पूछने का राष्ट्रीय औसत 153 है जबकि छत्तीसगढ़ के सांसदों का सवाल पूछने का औसत 103 ही है. छत्तीसगढ़ के सांसदों द्वारा प्राइवेट मेंबर बिल लाने का औसत 0.1 है जबकि इसका राष्ट्रीय औसत 1.2 है.

रायपुर के भाजपा सांसद रमेश बैस लोकसभा की स्टैंडिग समिति सोशल जस्टिस तथा एमपावरमेंट के सदस्य हैं. यह उऩका 7वां टर्म है.

सरगुजा से भाजपा के सांसद कमलभान सिंह लोकसभा की रसायन तथा उर्वरक मंत्रालय के स्टैंडिंग समिति के सदस्य हैं. इसी तरह से बस्तर के सांसद दिनेश कश्यप लोकसभा की फूड, कंज्यूमर अफेयर्स तथा पब्लिक डिस्ट्रीब्यूशन की स्टैंडिंग समिति के सदस्य हैं.

लोकसभा में कांकेर से भाजपा के सांसद विक्रमदेव उसेंडी ने 99 फीसदी उपस्थिति दर्ज करवाई है. उसके बाद भाजपा सांसद चंदूलाल साहू ने 94 फीसदी, रमेश बैस ने 86 फीसदी, दुर्ग से कांग्रेस के ताम्रध्वज साहू ने 85 फीसदी, अभिषेक सिंह तथा लखनलाल साहू ने 84-84 फीसदी, कमलादेवी पाटले ने 79 फीसदी, कोरबा के बंसीलाल महतो ने 77 फीसदी, दिनेश कश्यप ने 73 फीसदी तथा कमलभान सिंह ने 69 फीसदी उपस्थिति संसद में दर्ज करवाई है.

लोकसभा में छत्तीसगढ़ के 11 सांसदों में से बिलासपुर के लखनलाल साहू ने सबसे ज्यादा बहस में भाग लिया है. उन्होंने कुल 32 बार लोकसभा की बहस में भाग लिया है. उऩके बाद जांजगीर-चांपा से भाजपा की सांसद कमलादेवी पाटले ने 27 बार बहसों में हिस्सा लिया है. इसी तरह से ताम्रध्वज साहू ने 25 बार, बंशीलाल महतो ने 18 बार, विक्रम देव उसेंडी ने 16 बार, महासमुंद के सांसद चंदूलाल साहू ने 12 बार, राजनांदगांव के सांसद अभिषेक सिंह ने 9 बार, दिनेश कश्यप ने 5 बार, सरगुजा से कमलभान सिंह ने 3 बार तथा रमेश बैस ने 1 बार लोकसभा की बहसों में हिस्सा लिया है.

जहां तक लोकसभा में छत्तीसगढ़ के सांसदों द्वारा सवाल पूछने की बात है सबसे ज्यादा सवाल कमलादेवी पाटले ने पूछा है. उन्होंने 380 सवाल पूछे हैं. उनके बाद अभिषेक सिंह तथा बंसीलाल महतो ने 185-185 सवाल, ताम्रध्वज साहू ने 74 सवाल, चंदूलाल साहू ने 72 सवाल, लखनलाल साहू ने 65 सवाल, विक्रम उसेंडी ने 42 सवाल, कमलभान सिंह ने 21 सवाल, दिनेश कश्यप ने 4 सवाल तथा रमेश बैस ने 3 सवाल पूछे हैं.

दुर्ग के कांग्रेस सांसद ताम्रध्वज साहू ने 1 प्राइवेट मेंबर बिल लाया था.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!