मायावती के भाई के पास ‘काली माया’

नई दिल्ली | समाचार डेस्क: बसपा सुप्रीमो मायावती के भाई के खाते में नोटबंदी के बाद 1.43 करोड़ रुपये जमा कराये गये हैं. यह रकम 8 नवंबर रात से नोटबंदी लागू होने बाद मजा कराये गये हैं. इसका पर्दाफाश प्रवर्तन निदेशालय ने किया है तथा मामला आयकर विभाग को सौंप दिया है. प्रवर्तन निदेशालय ने यह कार्यवाही सोमवार को की है. यह रकम मायावती के भाई के दो बैंक अकाउंट में जमा कराया गया है. इस पर बसपा का जवाब हासिल करने का प्रयास सफल नहीं हो पाया.

प्रवर्तन निदेशालय ने इस खाते के बारे में पता लगाया जिसका ताल्लुक मायावाती के भाई आनंद से है. इस खाते में 1.43 करोड़ रुपये की राशि मिली है.


नोटबंदी के बाद 18.98 लाख रुपये पुराने नोटों में जमा कराये गये. एजेंसी ने बैंक से इन दोनों खातों के बारे में पूरा ब्योरा मांगा है. समझा जा रहा है कि एजेंसी आयकर विभाग को इस बारे में लिखेगी जिसे राजनीतिक दलों को मिले चंदे और अनुदान की वैधानिकता की जांच का अधिकार हासिल है.

ईडी ने बैंक से सीसीटीवी फुटेज और खाते खोलने के लिए दस्तेमाल किए गये केवाईसी दस्तावेज भी मांगे हैं. माना जा रहा है कि आनंद के खातों के संदर्भ में एजेंसी जल्द ही आनंद को नोटिस जारी करेगी और कर अपवंचन कानून के तहत जांच के लिये आयकर अधिकारियों से भी कहेगी. ईडी नोटबंदी के बाद हुये हवाला और धनशोधन के मामलों की जांच के लिए 50 से अधिक शाखाओं में पड़ताल कर रही है.

उत्‍तर प्रदेश विधानसभा के चुनावों से पहले मायावती के लिये यह झटका है. गौरतलब है कि मायावती पर भी आय से अधिक संपत्ति का मामला पहले से ही सुप्रीम कोर्ट में लंबित है. मायावती नोटबंदी के मुद्दे पर मोदी सरकार के कदम का लगातार विरोध करती रही हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!