भारत प्रचंड जवाब देगा

नई दिल्ली | डेस्क: सीमा पर गोलोबारी के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा है कि अगर भारत को उकसाया गया, तो भारत इसका ‘प्रचंड जवाब’ देगा. जैसलमेर के लोंगेवाला पोस्ट पर सेना के जवानों के साथ दीवाली मनाने पहुँचे मोदी ने पाकिस्तान और चीन बहुत साफ-साफ चेतावनी दी.

नरेंद्र मोदी ने चीन की तरफ़ इशारा करते हुए कहा, “आज पूरा विश्व विस्तारवादी ताक़तों से परेशान है. ये एक तरह से मानसिक विकृति है और 18वीं शताब्दी की सोच को दर्शाती है.”


उन्होंने कहा, “भारत दूसरों की बात समझने और अपनी बात समझाने की नीति पर विश्वास करता है, लेकिन यदि उकसाया जाए तो ये देश प्रचंड जवाब देने में सक्षम है.”

मोदी ने कहा कि ‘दुनिया की कोई भी ताक़त देश के सैनिकों को सीमा की सुरक्षा करने से रोक नहीं सकती है.’

पीएम मोदी ने युवाओं से आग्रह किया कि “कुछ ना कुछ नया इनोवेट करने की आदत को अपनी रोज़मर्रा की ज़िंदगी का हिस्सा बनाइये. दूसरा- योग को अपने जीवन का हिस्सा बनाये रखिए. तीसरा- अपनी मातृभाषा, हिंदी और अंग्रेज़ी के अलावा, कम से कम एक भाषा ज़रूर सीखिये.”

पाकिस्तान का नाम लिये बिना मोदी ने कहा, “जब भी ज़रूरत पड़ी है भारत ने दुनिया को दिखाया है कि उसके पास ताक़त भी है और सही जवाब देने की राजनीतिक इच्छाशक्ति भी. आज भारत आतंक के आक़ाओं को घर में घुसकर मारता है. आज दुनिया यह समझ रही है कि ये देश अपने हितों से किसी भी क़ीमत पर रत्ती भर समझौता करने वाला नहीं है.”

पीएम मोदी बोले, “दीपावली के दिन दरवाज़े या गेट के सामने शुभ-लाभ या रिद्धि-सिद्धि आदि रंगोली की परंपरा है. इसके पीछे यही सोच होती है कि दीपावली पर स्मृद्धि आये. वैसे ही राष्ट्र की सीमाएं एक प्रकार से देश का द्वार होती हैं. ऐसे में राष्ट्र की स्मृद्धि, शुभ-लाभ और रिद्धि-सिद्धि आपसे है.”

उन्होंने कहा, “कोरोना काल में वैक्सीन बनाने का प्रयास कर रहे वैज्ञानिकों के साथ ही मिसाइलें बनाने वाले वैज्ञानिकों ने देश का ध्यान खींचा है. इस दौरान निरंतर मिसाइलों के टेस्टिंग की ख़बरें आती रहीं. आप कल्पना कर सकते हैं कि बीते कुछ महीनों में ही देश की सामरिक ताक़त कितनी ज़्यादा बढ़ गई है.”

प्रधानमंत्री ने कहा, “आज जिस प्रकार दूसरे क्षेत्रों में महिलाओं को आगे बढ़ने के लिए प्रोत्साहित किया जा रहा है, उसी तरह हमारे सुरक्षा तंत्र में भी वुमेन पावर की भूमिका को और व्यापक किया जा रहा है.”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!