मानसून 16 जून को पहुंचेगा छत्तीसगढ़

रायपुर | संवाददाता: इस साल मानसून छत्तीसगढ़ में 16 जून तक दस्तक देगा. वहां से राजधानी रायपुर तक पहुंचने में इसे 4-6 दिन लग सकते हैं. लेकिन तब तक मानसून पूर्व बारिश पूरे राज्य में होने की संभावना है.

शनिवार को मानसून केरल पहुंचा है. अब तक के जो अनुमान हैं, उसके अनुसार मानसून के रास्ते में कोई रुकावट नहीं है. यह अगले रविवार तक बस्तर में पहुंचेगा. लेकिन इससे पहले मंगलवार से ही राज्य के अलग-अलग हिस्सों में बारिश अपना रंग दिखाना शुरु कर देगी.


मौसम वैज्ञानिकों का कहना है कि इस बार भी छत्तीसगढ़ में बेहतर बारिश की संभावना है. मध्य छत्तीसगढ़ में भी किसानों को इस बार अच्छी बारिश का लाभ मिलेगा.

देश का हाल

मौसम वैज्ञानिकों का कहना है कि चक्रवात के प्रभाव की वजह से दक्षिणपूर्वी अरब सागर, लक्षद्वीप क्षेत्र और पूर्व-मध्य अरब सागर के ऊपर निम्न दबाव वाला क्षेत्र बन गया है.

वहीं महाराष्ट्र में मौसम विभाग ने भविष्यवाणी की है कि 11 जून और 12 के बीच भारत के पश्चिमी तट के पास अरब सागर में एक चक्रवात आ सकता है. चक्रवात राज्य के तट से लगभग 300 किमी दूर होगा.

मौसम विशेषज्ञों के अनुसार इस समय में कोंकण के साथ मुंबई में मानसून प्रवेश करेगा. मौसम विज्ञान विभाग ने मछुआरों से 11-12 जून को अरब सागर में प्रवेश करने से बचने की अपील की है.

इधर वैज्ञानिकों ने कहा है कि जून में मानसून की देरी का असर साफ नज़र आ रहा है. जून में देश में 32.4 मिलीमीटर की सामान्य वर्षा के मुकाबले केवल 17.7 मिलीमीटर बारिश हुई, इससे वर्षा की कमी लगभग 45 प्रतिशत तक हो गई है.

जून में वर्षा की कमी मानसून की सुस्त गति और कमजोर अलनीनो के कारण बढ़ सकती है. देश के चार मौसम डिविजनों में सबसे अधिक 66 प्रतिशत की कमी मध्य भारत में है जिसमें महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश, गुजरात, गोवा, ओडिशा और छत्तीसगढ़ राज्य आते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!