एनआरसी एनपीआर नहीं लागू करेगा बिहार

पटना | संवाददाता: बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने एनआरसी लागू नहीं करने की घोषणा की है. बिहार के दरभंगा में एक सभा को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि बिहार में एनआरसी लागू नहीं होगा.

नीतीश कुमार ने यह भी कहा कि एनपीआर में मोदी सरकार द्वारा किये गये बदलाव को मान्य नहीं किया जायेगा. राज्य में एनपीआर बिना बदलाव के 2010 वाले नियम के अनुसार ही होगा.


नीतीश कुमार ने कहा-”NPR के नए स्वरूप को लेकर कई तरह का कन्फ्यूजन लोगों के दिमाग में है. वैसी परिस्थिति में बेहतर यही होगा कि पुराने मॉडल पर ही NPR लागू किया जाए.”

मुख्यमंत्री ने मौलाना अबुल कलाम आजाद की तुलना महात्मा गांधी करते हुये कहा कि जिस तरह से बापू को लोग याद रखते हैं, उन्हें मौलाना आजाद को भी याद रखना होगा क्योंकि ये भी देश के बंटवारे के खिलाफ थे.

उन्होंने कहा कि बिहार में पहले 12.5 प्रतिशत बच्चें स्कूलों से बाहर थे, जिनमें अधिकांश बच्चें अल्पसंख्यक और दलित-महादलित समुदाय से थे, उन्हें स्कूलों तक पहुंचाने के लिए विशेष पहल किया गया, जिसका परिणाम है कि अब एक प्रतिशत से भी कम बच्चें स्कूलों से बाहर हैं.

उन्होंने कहा कि पहले मांग करने पर मदरसा शिक्षकों की पिटाई होती थी लेकिन हम लोगों ने सातवां वेतन आयोग लागू किया. राज्य सरकार ने सभी जिलों में बिहार राज्य अल्पसंख्यक आवासीय विद्यालय का निर्माण कराने का निर्णय लिया है.

One thought on “एनआरसी एनपीआर नहीं लागू करेगा बिहार

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!