26/11 का पाक कनेक्शन- ex NSA

नई दिल्ली | समाचार डेस्क: पाकिस्तान के पूर्व NSA ने कहा 26/11 को पाक आतंकियों ने अंजाम दिया. पहली बार किसी अंतर्राष्ट्रीय मंच पर पाकिस्तान के किसी पूर्व उच्चाधिकारी ने स्वीकार किया कि मुंबई हमलों में पाक के आऐतंकियों का हाथ था. 26 नवंबर 2008 को मुंबई हमलें में 166 लोगों की जान चली गई थी. पाकिस्‍तान के पूर्व राष्‍ट्रीय सुरक्षा सलाहकार महमूद अली दुर्रानी ने 19वीं एशियाई सुरक्षा कांफ्रेंस के दौरान यह बयान दिया. दुर्रानी ने बताया कि 26/11 मुंबई हमला सीमा पार आंतकवाद का क्‍लासिक उदाहरण हैं.

दुर्रानी ने कहा कि हाफिज सईद की कोई उपयोगिता नहीं है. उसके खिलाफ कार्रवाई होनी चाहिए. इंस्‍टीट्यूट ऑफ डिफेंस एंड स्‍टडीज एंड एनालिसिस की ओर से आयोजित इस कांफ्रेंस में भारत के रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर भी मौजूद थे. इस कांफ्रेंस की थीम, ‘कॉम्‍बेटिंग टेरेरिज्‍म: इवॉल्विंग एन एशियन रेस्‍पॉन्‍स’ है.


इस क्रांफ्रेंस में भारत के रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर ने कहा कि भारत और अफगानिस्‍तान दशकों से छद्म युद्ध के शिकार हो रहे हैं. आतंकवाद अंतरराष्‍ट्रीय सुरक्षा के लिए चुनौती है. इसका सामना करने के लिए सहयोग से वैश्विक जवाब अहम है. उन्‍होंने आतंकवाद को अंतर्राष्‍ट्रीय शांति और सुरक्षा के लिए सबसे बड़ा खतरा बताया.

गौरतलब है कि हाफिज सईद ही मुंबई हमले का मास्‍टरमाइंड है. भारत उसके खिलाफ कार्रवाई की मांग करता रहा है लेकिन पाकिस्‍तान सबूतों के अभाव की दुहाई देकर ऐसा करने से बचता रहा है.

उल्लेखनीय है कि 26 नवंबर 2008 को 10 पाकिस्‍तानी आतंकी समुद्र के रास्‍ते से आये और उन्‍होंने अंधाधुंध तरीके से गोलीबारी की. इसमें 166 लोगों की जान गई और सैंकड़ों अन्‍य घायल हो गये. यह हमला तीन दिन तक चलता रहा. आतंकियों ने छत्रपति शिवाजी टर्मिनल, द ओबेरॉय ट्राइडेंट, ताज महल पैलेस एंड टावर, लियोपाल्‍ड कैफे, कामा अस्‍पताल जैसी बड़ी जगहों को निशाना बनाया था.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!