छत्तीसगढ़ में हर दिन रेप की 7 घटनायें

रायपुर | संवाददाता: छत्तीसगढ़ में हर दिन 7 से अधिक महिलाओं के साथ बलात्कार की घटनायें सामने आ रही हैं. 2020 में राज्य में बलात्कार की 2632 घटनायें सामने आई हैं. विधानसभा में एक सवाल के जवाब में यह आंकड़ा सामने आया है.

नेशनल क्राइम रिसर्च ब्यूरो के पुराने आंकड़ों के अनुसार देखें तो 2014 से 2018 के बीच पांच सालों में छत्तीसगढ़ में 8,592 मामले दर्ज किये गये थे. यानी भारतीय जनता पार्टी की सरकार के कार्यकाल में हर दिन औसतन 4 से अधिक महिलाओं के साथ दुष्कर्म की घटनायें हो रही थीं.


ताज़ा आंकड़ों की बात करें तो राज्य के आदिवासी इलाकों में दुष्कर्म के सबसे कम मामले सामने आये हैं, जबकि राजधानी रायपुर में दर्ज मामलों की संख्या सबसे अधिक है.

राज्य के गृहमंत्री ताम्रध्वज साहु ने विधानसभा में जो आंकड़े प्रस्तुत किये हैं, उसके अनुसार पिछले साल यानी 2020 में राज्य में बलात्कार की 2632 घटनायें सामने आई हैं.

इसी तरह 2019 में राज्य में बलात्कार के 2556 मामले सामने आये हैं.

पिछले साल बलात्कार के सर्वाधिक मामले रायपुर ज़िले में सामने आये. यहां कुल 262 मामले दर्ज किए गये.

दूसरे नंबर पर रायगढ़ ज़िला रहा, जहां बलात्कार के 176 मामले सामने आये.

आदिवासी इलाकों में रेप की घटनायें कम

दुष्कर्म का सबसे कम मामले आदिवासी ज़िलों में सामने आये हैं.

बीजापुर ज़िले में जहां पूरे साल भर में 14 मामले दर्ज हुये हैं, वहीं 2019 में यह आंकड़ा 17 था.

2020 में दंतेवाड़ा ज़िले में कुल 16 मामले दर्ज किये गये. 2019 में इस ज़िले में यह आंकड़ा 9 था.

2020 में सुकमा ज़िले में बलात्कार के मामलों की संख्या 18 रही है. 2019 में इस ज़िले में केवल 5 मामले सामने आये थे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!