महिला एसपी ने लगाया आईजी पर यौन शोषण का आरोप

चेन्नै | समाचार डेस्क: तमिलनाडु में एक महिला एसपी ने आईजी पर यौन शोषण करने और पोर्न फिल्म दिखाने का आरोप लगाया है. महिला आईपीएस का कहना है कि आईजी पिछले कई महीनों से उसका यौन शोषण कर रहे हैं और अब यह बर्दाश्त से बाहर हो गया है.

मामले की शिकायत मिलने के बाद सरकार ने जांच के लिये एक कमेटी गठित की है. उम्मीद जताई जा रही है कि दो सप्ताह के भीतर यह जांच कमेटी अपनी रिपोर्ट सौंप देगी. राज्य के पुलिस महानिदेशक टीके राजेंद्रन ने एडीजीपी सीमा अग्रवाल, एसयू अरुणाचलम और डीआईजी थेमोझी, रिटायर्ड एएसपी सरस्वती और डीजीपी ऑफिस में प्रशासनिक अधिकारी रमेश की कमेटी को यौन शोषण मामले की जांच का जिम्मा सौंपा है, वहीं विभाग की विशाखा कमेटी भी मामले की पृथक जांच करेगी.


एसपी के पद पर तैनात इस महिला आईपीएस ने राज्य सरकार को जो शिकायत की है, उसमें कहा है कि आईजी मुझे गले लगाने का मौका ढूंढते थे. कई अवसर पर उन्होंने जबरन मुझे गले लगाया. वह मुझे गलत तरीके से छूते थे. जब मैंने इसका विरोध किया तो वह मुझे दूसरे तरीकों से परेशान करने लगे.

यौन शोषण एसपी का कहना है कि आईजी उसे देर रात फोन करते रहे हैं और उन्हें आपत्तिजनक संदेश भी भेजते थे. एसपी का कहना है कि कई बार आईजी उन्हें किसी काम से अपने पास बुलाते और अपने मोबाइल पर पोर्न क्लिप चलाने लगते थे. यह सिलसिला सात महीनों तक चला. महिला का कहना है कि उन्होंने जब इसका विरोध किया तो आईजी ने उसका सीआर खराब करने की धमकी दी.

राज्य के पुलिस महानिदेशक टीके राजेंद्रन ने कहा है कि मामले की गंभीरता को देखते हुये सरकार महिला एसपी को किसी दूसरे विभाग में पदस्थ करने पर विचार कर रही है. उन्होंने कहा कि किसी भी परिस्थिति में दोषी को छोड़ा नहीं जाएगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!