अंशु प्रकाश पर बरसे आप सांसद सुशील गुप्ता

रायपुर | संवाददाता: आम आदमी पार्टी के सांसद सुशील गुप्ता ने कहा है कि दिल्ली के मुख्य सचिव अंशु प्रकाश ने मारपीट की झूठी रिपोर्ट दर्ज कराई है. उन्होंने कहा कि दिल्ली के मुख्य सचिव ने गरीबों का राशन रोक दिया था, इसी बात को लेकर बैठक में विवाद की स्थिति बनी. सांसद गुप्ता ने कहा कि ऐसे अफसरों को टाइट करना सरकार का काम है. गुप्ता ने आरोप लगाया कि मुख्यमंत्री से मिलने के लिये आने से पहले मुख्य सचिव ने उप राज्यपाल से सलाह ली थी.

आम आदमी पार्टी के राज्यसभा सदस्य डॉक्टर सुशील गुप्ता और पार्टी के राष्ट्रीय सचिव पंकज गुप्ता पिछले दो दिनों से रायपुर में हैं. दोनों नेताओं ने पार्टी नेता और मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की मार्च में आयोजित होने वाली सभा की तैयारी के सिलसिले में छत्तीसगढ़ के कई जिलों का दौरा करने के बाद गुरुवार को मीडिया से बातचीत की.


सांसद सुशील गुप्ता ने कहा कि मुख्य सचिव ने गरीबों के राशन की फाइल रोक दी थी, जबकि हमारी पार्टी ने गरीबों के घर तक राशन पहुंचाने का वादा किया था. इसी फाइल पर बात करने के लिये मुख्य सचिव अंशु प्रकाश को बुलाया गया था. गुप्ता ने कहा कि बैठक में आने से पहले अंशु प्रकाश ने दिल्ली के उप राज्यपाल से सलाह ली थी और वे बैठक में केवल चार मिनट के लिये आये थे.

आम आदमी पार्टी के संसदीय सचिवों को अयोग्य करार दिये जाने को लेकर भी सुशील गुप्ता ने केंद्र पर निशाना साधा और कहा कि यह नियम केवल आम आदमी पार्टी के संसदीय सचिवों के लिये क्यों है? सुशील गुप्ता ने कहा कि छत्तीसगढ़ में भी संसदीय सचिव हैं और सरकार जानती है कि अगर यहां संसदीय सचिवों को अयोग्य ठहरा दिया जायेगा तो छत्तीसगढ़ की भाजपा सरकार गिर जायेगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!