ट्रंप के निशाने पर 10 लाख अप्रवासी

वाशिंगटन | समाचार डेस्क: अमरीका में ट्रंप प्रशासन कथित अवैध अप्रवासियों को निकाल-बाहर करने जा रही है. ट्रंप प्रशासन के होमलैंड सुरक्षा विभाग द्वारा इसे लागू करने के लिये 10 हजार अतिरिक्त अधिकारियों को नियुक्त करने जा रही है. इसका असर कथित तौर पर अमरीका में रह रहे 10 अप्रवासियों पर पड़ने जा रहा है. अमरीकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप प्रशासन के इस कदम को वहां के अखबार न्यूयॉर्क टाइम्स ने ‘आव्रजन कानून फिर से वापस आ गया है’ कि संज्ञा दी है. जाहिर है कि दुनिया के सबसे पुराने जनतंत्र को ट्रंपतंत्र प्रतिस्थापित करने जा रहा है.

मंगलवार को अमरीका के होमलैंड सिक्युरिटी मंत्री जॉन केली द्वारा जारी आदेश के तहत पकड़े गये व्यक्ति को साबित करना पड़ेगा कि वह लगातार दो साल से अमरीका में रह रहा है. इसमें एक पुराने क़ानून को भी लागू करवाने की बात की गई है जिसके तहत अधिकारी सीमा पर पकड़े गए कुछ लोगों को जबरन मेक्सिको भेज सकते हैं, वो चाहे किसी भी देश का हो.


इसके तहत सबसे पहले ऐसे अप्रवासियों को निशाना बनाया जायेगा जिनका आपराधिक रिकॉर्ड है और जिनके पास दस्तावेज़ नहीं हैं.

इनमें गंभीर अपराधों में शामिल रहनेवाले लोगों के अलावा साधारण ट्रैफ़िक क़ानून तोड़ने या दूकानों से सामान चोरी करने के लिये गिरफ़्तार किये गये लोगों को भी शामिल किया जायेगा.

जाहिर कि अमरीकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप अब उन जुमलों या वादों को अमलीजामा पहनाने जा रहें हैं जिनका वे अपने चुनाव प्रचार के दौरान उपयोग करते रहें हैं. इसके अलावा अमरीका में शरण चाहने वालों को हतोत्साहित भी किया जायेगा और अंततः उन्हें वापस भेज दिया जायेगा.

यह भी पढ़ें- Memos on Trump’s Immigration Policies

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!