उत्तराखंड: अब तक 32 शव बरामद

नई दिल्ली | डेस्क: उत्तराखण्ड हादसे में अब तक 32 शव बरामद किये जा चुके हैं. सरकारी अधिकारियों का कहना है कि अभी भी सुरंग में फंसे 34 मजदूरों को निकालने की कोशिश की जा रही है.

चमोली जिले में 7 तारीख को आई आपदा के बाद रेस्क्यू ऑपरेशन जारी है. तपोवन पॉवर प्रोजेक्ट की टनल में फंसे 34 मजदूरों को निकालने में सेना और आईटीबीपी के जवान लगे हैं.


टनल की दूसरी तरफ वायुसेना के विशेष दस्ते को उतार कर टनल में रास्ता बनाये जाने का काम भी शुरू किया गया है. दूसरी ओर ग्लेशियर टूटने से आई जल प्रलय से ऋषि गंगा और तपोवन पावर प्रोजेक्ट में बह गए करीब दो सौ लोगो को एनडीआरएफ और एसडीआरएफ खोजने में लगी है.

इधर उत्तर प्रदेश सरकार ने हरिद्वार में एक कंट्रोल रूम बनाया है, जहां राज्य के तीन मंत्रियों को नियुक्त किया है. अधिकांश प्रभावित उत्तरप्रदेश के हैं, इसलिए मंत्रियों को लगातार हालात पर नज़र बनाये रखने के निर्देश दिए गये हैं.

तपोवन से आगे नीति घाटी को जाने वाली सड़क और पुलों की मरम्मत का काम सीमा सड़क संगठन ने शुरू कर दिया है.

इधर वाडिया इंस्टीट्यूट ऑफ हिमालय जियोलॉजी ने आशंका जताई है कि झूलते ग्लेशियर के ढह जाने की वजह से उत्तराखंड में बाढ़ आयी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!