आधार की जगह खुद ऐसे बनायें वर्चुअल आईडी

नई दिल्ली | संवाददाता: अब आपका काम आधार के बजाये वर्चुअल आईडी से हो सकता है. भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण यानी यूआईडीएआई ने आधार कार्ड का वीआईडी बनाने के लिए बीटा संस्करण लांच कर दिया है.

भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण का कहना है कि आधार की जगह 1 जून 2018 से सेवा प्रदाता इस वर्चुअल आईडी से ही काम चला लेंगे. भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण ने एक ट्वीट में कहा है कि नई सुविधा आधार धारकों को बिना वेरीफिकेशन या सत्यापन की प्रक्रिया में अपना असली 12 अंकों का आधार नंबर दिए बिना एक वर्चुअल आईडी नंबर देने की इजाजत देगी.


पिछले साल भर से भी अधिक समय से आधार और निजता के अधिकार को लेकर चर्चा चलती रही है. आरोप लगता रहा है कि आधार के आधार पर व्यक्ति की सभी गोपनीय जानकारी आसानी से सार्वजनिक हो सकती है. इसके अलावा नेट बैंकिग में धोखाधड़ी की आशंका भी जताई जा चुकी है. आप चाहें तो भारत सरकार के इस लिंक से अपने आधार नंबर की जगह वर्चुअल आईडी बना सकते हैं-


भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण का कहना है कि तीन स्टेप्स को फॉलो करके अपना 16 अंकों वाला वर्चुअल आधार नंबर जेनरेट कर सकेंगे. इस वर्चुअल नंबर को जेनरेट करने के बाद आधार नंबर किसी भी थर्ड पार्टी को नहीं देना होगा. इस वर्चुअल नंबर का उपयोग बैंक अकाउंट, सरकारी सब्सिडी, तत्काल पासपोर्ट, टिकट, बीमा जैसी सुविधाओं के लिये किया जा सकता है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!