ब्योमकेश से खलनायकी को आमिर की, ना

मुंबई | मनोरंजन डेस्क: आमिर खान को ‘डिटेक्टिव ब्योमकेश बख्शी’ से खलनायकी करना पसंद नहीं था इसलिये वह ‘धूम-3’ में खलनायक बने. इसका खुलासा खुद फिल्म के निर्देशक दिबाकर बनर्जी ने किया है. आमिर खान बॉलीवुड के ऐसे शख्स हैं जो अपने किरदार को देखकर ही फिल्म के लिये हां करते हैं. जाहिर है कि जब उन्होंने ‘डिटेक्टिव ब्योमकेश बख्शी’ में खलनायकी करने से ना की थी तो उन्हें उसका खलनायक वज़नदार नहीं लगा होगा. फिल्म निर्देशक दिबाकर बनर्जी का कहना है कि उन्होंने अपनी फिल्म ‘डिटेक्टिव ब्योमकेश बख्शी’ में खलनायक की भूमिका के लिए सबसे पहले अभिनेता आमिर खान से संपर्क किया था, लेकिन उन्होंने इस पेशकश को ठुकरा दिया था. दिबाकर बनर्जी ने कहा, “मैं इस फिल्म को दो साल पहले बनाने के प्रयास में था और उस समय मैं एक खलनायक की तलाश में था जो ब्योमकेश को चुनौती दे सके और दर्शकों को लुभा सके.”

फिल्म का दूसरा ट्रेलर जारी करते समय दिबाकर ने सोमवार को बताया, “हम चाहते थे कि फिल्म में आमिर काम करें और इसलिए हमने उन्हें इस फिल्म की कहानी सुनाई, लेकिन उन्हें कहानी पसंद नहीं आई और उन्होंने कहा, ‘शायद यह वह फिल्म नहीं है जिसमे वह काम करना चाहते हैं.’ बाद में मुझे पता चला कि वह ‘धूम-3’ में खलनायक की भूमिका निभा रहे हैं.”

उन्होंने कहा, “मुझे लगता है कि अगर यशराज फिल्म्स ने कुछ पाया है तो इसने कुछ खोया भी है.”

हालांकि दिबाकर ने अपने दूसरे ट्रेलर में भी फिल्म के खलनायक की पहचान को छिपा कर रखा है. इसमें उन्होंने केवल उसकी पीठ दिखाई है.

फिल्म तीन अप्रैल को सिनेमाघरों में रिलीज होगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *