अदनान ने उठाये असहिष्णुता पर सवाल

नई दिल्ली | समाचार डेस्क: अदनान सामी ने कहा है कि भारत में असहिष्णुता होता तो वे भारतीय नागरिकता नहीं लेते. उल्लेखनीय है कि मशहूर पाकिस्तानी गायक अदनान सामी ने इसी वर्ष पूर्व में मानवीय आधार पर भारत में रहने देने का अनुरोध किया था.

सामी ने शनिवार को ‘एजेंडा आज तक’ के एक सत्र में कहा, “अगर देश में असहिष्णुता होती तो क्या मैं इस देश की नागरिकता की मांग करता? मुझे लगता है कि कथनी से अधिक करनी बोलती है.”


भारत में यात्री वीजा पर आए अदनान मार्च 2001 से भारत में रह रहे हैं.

अदनान को अगस्त में भारत में रहने की इजाजत दे दी गई थी.

अदनान ने पाकिस्तानी गजल गायक गुलाम अली की मुंबई और पुणे में प्रस्तुति रद्द होने के बारे में कहा, “उन्हें प्रस्तुति देनी चाहिए. यहां तक कि हर किसी को प्रस्तुति देनी चाहिए. संगीत का कोई रंग या धर्म नहीं है. अगर मैं कोई गीत सुनता हूं तो मैं रंग, धर्म या गायक के धर्म की परवाह नहीं करता.”

सामी ने कहा, “मैं एक गायक हूं, मेरा काम संगीत और सौहार्द बनाना है. मैं जहां भी सौहार्द देखूंगा, मैं उस ओर चला जाऊंगा. अगर माइकल जैक्सन ने लॉस एंजेलिस या लंदन में अपना संगीत रिकॉर्ड किया तो उससे कोई फर्क नहीं पड़ता. वह मुझ तक पहुंचा और मुझे पसंद आया यही अहम है.”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!