जोगी रमन को बचा रहे हैं- कांग्रेस

रायपुर | संवाददाता: छत्तीसगढ़ कांग्रेस ने कहा है जोगी अगस्ता मामलें में रमन सिंह को बचा रहे हैं. छत्तीसगढ़ कांग्रेस के प्रवक्ता सुशील आनंद शुक्ला ने एक प्रेस विज्ञप्ति के माध्यम से कहा है कि अजीत जोगी अगस्ता मामलें में मुख्यमंत्री रमन सिंह पर लगे आरोपों की धार कुंद करने के लिये नेता प्रतिपक्ष टीएस सिंहदेव पर झूठा आरोप लगा रहे हैं. उन्होंने कहा अजीत जोगी इस तरह से अपने सर्वकालिक भूमिका का निर्वहन कर रहें हैं.

गौरतलब है कि छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी ने कांग्रेस से इस्तीफा देकर नई पार्टी बना ली है. उन्होंने प्रवर्तन निदेशालय को लिखे अपने पत्र में रमन सिंह के परिजनों के अलावा छत्तीसगढ़ विधानसभा सभा में नेता प्रतिपक्ष टीएस सिंहदेव पर भी आरोप लगाये हैं. जोगी ने सिंहदेव द्वारा कथित रूप से लोक लेखा समिति के अध्यक्ष के नाते अगस्ता मामलें में छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री को बचाने का प्रयास किया है.

कांग्रेस प्रवक्ता ने अजीत जोगी द्वारा दूसरे के लिये राजनीति करने का आरोप लगाते हुये कहा है, “जनता जोगी के सारे दावों हथकण्डों से भलीभांति परिचित है, जनता भी अखबार पढ़ती है, खबरों को देखती है और जनता की समझ जोगी जैसे नेताओ से कई गुना अधिक है, सब समझ रहे है कि वे किनके इशारे पर, किनके लिए राजनीति करते हैं. उनके द्वारा किसी के बचाव के लिए किसी पर प्रहार का दांव अब नही चलने वाला. सिंहदेव जैसे ईमानदार नेता पर ऊँगली उठाने से पहले अजीत जोगी अपनी हथेली को गौर से देखते तो उनकी खुद की शेष उंगलिया उनके खुद की ओर ईशारा करती नजर आ जाती”

कांग्रेस की विज्ञप्ति में कहा गया है, “समिति ने सीएजी के आंकलन के अनुसार हेलीकाप्टर खरीदी के लिए त्वरित निर्णय नही लेने के कारण हुए 65 लाख की शासन को हुई हानि को सही मानते हुए संबंधित अधिकारियों के उत्तरदायित्व निर्धारित कर समिति को बताने को कहा है. साथ ही समिति ने हेलिकाप्टर खरीदी करने के लिए बनाई गयी कमेटी के हांगकांग दौरे पर भी आपत्ति व्यक्त करते हुए दौरे में गए कमेटी के अधिकारियों से वसूली के आदेश देकर लोकलेख समिति को अवगत कराने को कहा था.आज तक रमन सरकार कांग्रेस विधायक दल के नेता टीएस सिंहदेव की अध्यक्षता वाली लोकलेखा समिति के द्वारा उठाये गये सवालों का उत्तर तक नहीं दे पायी है.”

छत्तीसगढ़ कांग्रेस के प्रवक्ता ने कहा कि लोक लेखा समिति सीएजी की रिपोर्ट दायरे में ही गड़बड़ियों की जांच करती है. सीएजी के द्वारा किया गया आडिट ही लोकलेखा समिति की जांच का आधार होता है. 

हेलिकाप्टर मामले में भी लोकलेखा समिति के अध्यक्ष के नाते कांग्रेस विधायक दल के नेता टीएस सिंहदेव ने सीएजी की आडिट के अनुसार ही विधायी नियमों के तहत न सिर्फ जांच की, बल्कि कार्यवाही की अनुशंसा की थी. रमन सिंह सरकार को और संबद्ध विभाग को कटघरे में खड़ा किया.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *